फॉलो करें

अमित शाह बोले- असम में पुनः भाजपा सरकार बनी तो लव जिहाद और लैंड जिहाद के खिलाफ कानून लाएंगे

113 Views

शिलचर : असम विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को ताबड़तोड़ रैलियां की। असम के कई विधानसभा क्षेत्रों में जनसभा को संबोधित किया। जगिरोड, कमालपुर, बराक घाटी के पाथरकांदी व शिलचर में भी चुनावी जनसभा की। उन्होंने कहा कि भाजपा का घोषणा पत्र संकल्प पत्र है।

संकल्प पत्र में ढेर सारी बाते हैं, मगर सबसे बड़ी बात लव जिहाद और लैंड जिहाद के खिलाफ कानून लाने का काम भाजपा सरकार करेगी। हम अपने वादे से पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, राहुल गांधी का कहना है कि बदरुद्दीन अजमल असम की पहचान है।

असम की पहचान शंकरदेव और माधवदेव है, वीर सेनापति लचित बरफूकन है। कांग्रेस कितनी भी जोर लगा ले हम बदरुद्दीन अजमल को असम की पहचान नहीं बनने देंगे।शाह ने कहा कि काजीरंगा के जंगलों में घुसपैठियों ने कब्जा कर रखा था। लैंड जिहाद के माध्यम से असम की पहचान को बदलने का काम बदरुद्दीन अजमल ने किया था। कांग्रेस आज उसी बदरुद्दीन अजमल के साथ है।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि असम में 8वीं कक्षा के बाद सभी बच्चियों को साइकिल दी जाएगी। कॉलेज जाने वाली हर छात्रा को स्कूटी देंगे। 2 लाख सरकारी नौकरियां और 8 लाख प्राइवेट नौकरियों का सृजन 2022 से पहले किया जाएगा। असम में लव जिहाद और लैंड जिहाद के खिलाफ कानून लाएंगे। गृहमंत्री का कहना था कि लैंड जिहाद के माध्यम से असम की पहचान को बदलने का काम बदरुद्दीन अजमल ने किया।

अगर बदरुद्दीन अजमल और कांग्रेस की सरकार असम आती है, तो असम एक बार फिर से आतंकवाद के रास्ते पर चल पड़ेगा। काजीरंगा के जंगलों में घुसपैठिए बिना रोक-टोक के गैंडों का शिकार करते थें। आज पूरे विश्व में गैंडा असम की पहचान बना हुआ है। पूरे काजीरंगा के जंगलों को घुसपैठियों से मुक्त कराने का काम भाजपा सरकार ने किया है।

बोडो लैंड का समझौता समस्त असम के लिए शांति का पैगाम है। वर्षों से जो असम आतंकवाद के चलते युवाओं की जान गंवाता था, वो असम आज मोदी जी के नेतृत्व में आतंकवाद से मुक्त होकर विकास के रास्ते पर चल पड़ा है।

उल्लेखनीय है कि असम की 126 सीटों के लिए 27 मार्च, 1 अप्रैल और 6 अप्रैल को तीन चरणों में चुनाव होना है। पहले चरण में कुल 47 सीटें हैं। दूसरे में 39 और तीसरे चरण में 40 सीटों पर मतदान होगा। मतगणना 2 मई को होगी।

अमित शाह का बराक वासियो से वादा, आए शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी और घुसपैठियों को निकाला भी जाएगा
सिलचर : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बराक घाटी में दो चुनावी जनसभा की। पहली जनसभा उनकी पाथरकांदी में हुई। जबकि दूसरी जनसभा सिलचर में थी। शहर के इंडिया क्लब मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए शाह बराक वासियों के साथ भावनात्मक तरीके से जुड़ने का प्रयास किया।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि यहां आए शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी और घुसपैठियों को निकालने का भी काम करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विकास को ही मुख्य एजेंडा बनाया है। सबका साथ – सबका विकास भाजपा का मूल मंत्र बन चुका है। भाजपा सरकार यहां सिलचर में मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क को जल्द पूरा कर पुरे पूर्वी देशों में यहां से उत्पाद जाएं इस प्रकार की व्यवस्था करना चाहती है।

राष्ट्रीय रक्षा विज्ञान के तहत सिलचर में भी एक विश्वविद्यालय होगी। सिलचर के अंदर सर्वांगीण औद्योगिक विकास के लिए भी काम किया जाएगा। युवाओं को इसका लाभ मिलेगा। सिलचर हवाई अड्डे को अपग्रेड कर आने वाले दिनों में एक नया अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाने जा रहे है। शाह ने कांग्रेस – एआईयूडीएफ गठबंधन पर कहा कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में ये दोनों पार्टियां अंदर ही अंदर एक दूसरे की मदद कर रहे थे।

सिलचर संसदीय सीट पर मौलाना अजमल ने कांग्रेस के खिलाफ अपना प्रत्याशी ही नहीं दिया था। जनता ने तब भी भांप लिया था कि राहुल गांधी और अजमल के बीच इलू – इलू चल रहा है। इस बार तो वे खुलकर एक साथ चुनाव मैदान में है। राहुल गांधी अजमल के कंधे पर बैठकर चुनावी वैतरणी पार करने में लगे है। भाजपा विकास के एजेंडे के साथ फिर जीतेगी।

कांग्रेस शासन काल के समय सिलचर – करीमगंज रास्ता का क्या हाल था। सफर के दौरान हड्डियां भी हिल जाती थी। भाजपा सरकार असम समेत पुरे पूर्वोत्तर में रेल, सड़क कनेक्टिविटी पर काम किया। अमित शाह ने अपने घोषणा पत्र को संकल्प पत्र बताया। कहा वह जो कहते है उसे हर हाल में करते है।

आने वाले पांच साल में उनकी सरकार पाथरकांदी में मेगा फ़ूड का काम करेगी, जो बराक घाटी के युवाओं को रोजगार देने के लक्ष्य को पूरा करेगा। यहां पर मिनी सचिवालय बना है। असम सरकार के सभी विभाग को यहां लाया जाएगा ताकि गुवाहाटी न जाना पड़े। शाह बोले घुसपैठिए नशा के साजो सामान यानि मादक द्रव्य पदार्थ लाते है। युवा इस जाल में फंसकर बर्बाद हो रहे है। बराक घाटी में एक स्पेशल नार्कोटिक सेल बनाकर युवाओं को नशे से मुक्ति दिलाएंगे।

चाय बागान के संपूर्ण विकास के लिए भाजपा सरकार ने की पहल
चाय बागान पर भाजपा सरकार ने क्या किया है यह जानकारी दी। शाह ने बताया कि मोदी सरकार ने एक हज़ार करोड़ रूपए बागान के अंदर उनके आवास, स्कूल व स्वास्थ्य के लिए दिया। वह बागान वासियों के संपूर्ण विकास की चर्चा करते है। श्रमिकों के मज़दूरी को बढ़ाया है। जबकि कांग्रेस फोटो सेशन का काम में व्यस्त है।

शाह प्रियंका गांधी के चाय बागान के दौरे को लेकर यह बात कही। मोदी सरकार द्वारा असम में क्या काम हो रहा है इसकी जानकारी गृहमंत्री ने दी। शाह ने अपने संबोधन में कहा कि असम में प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

विदित हो कि अमित शाह पाथरकांदी में पार्टी उम्मीदवार कृष्णेंदु पाल और सिलचर में दीपायन चक्रवर्ती के पक्ष में प्रचार किया। मंच पर पाथरकांदी में स्थानीय सांसद कृपानाथ माला व पार्टी के अन्य शीर्ष नेता जबकि सिलचर में सांसद डॉ. राजदीप रॉय सहित विमलेन्दु रॉय, नित्य भूषण दे, उदयशंकर गोस्वामी, रीना सिंह, रूपम साहा सहित अन्य दिखाई दिए।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

मारवाड़ी सम्मेलन की तिनसुकिया तथा तिनसुकिया महिला शाखा के आतिथ्य में अखिल भारतवर्षीय मारवाड़ी सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार लोहिया और महामंत्री कैलाश पति तोदी सहित प्रांतीय अधिकारियों का तिनसुकिया में भव्य स्वागत

Read More »

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल