असम चुनावः दूसरे चरण का मतदान 01 को, चुनावी शोर थमा

39 सीटों के लिए 345 उम्मीदवारों के भाग्य का निर्णय करेंगे 73,44,631 मतदाता

0
383
असम चुनावः दूसरे चरण का मतदान 01 को, चुनावी शोर थमा

गुवाहाटी, 30 मार्च (हि.स.)। 15वीं असम विधानसभा के दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार का शोर मंगलवार की शाम समाप्त हो गया। कुल 73,44,631 मतदाता 01 अप्रैल को 10592 मतदान केंद्रों पर राज्य के 13 जिलों की 39 सीटों के लिए 345 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे जिसमें 3734537 पुरुष, 3609959 महिला तथा 135 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

दूसरे चरण में अधिकांश सीटें बराक घाटी, मध्य असम और कुछ सीटें निचले असम में हैं। ऊपरी असम में पहले चरण के तहत 27 मार्च को मतदान संपन्न हो चुका है। 2016 के असम विधानसभा चुनाव के आंकड़ों पर नजर डालें तो जिन 39 सीटों पर मतदान होने जा रहा है, इसमें भाजपा को 22, कांग्रेस को 06, एआईयूडीएफ को 05, अगप को 02 और बीपीएफ को 04 सीटों पर जीत मिली थी। इस बार बीपीएफ भाजपा को छोड़ कांग्रेस वाले गठबंधन में शामिल हो गयी है। भाजपा गठबंधन में यूपीपीएल शामिल हो गयी है। ऐसे में दूसरे चरण के चुनावी परिणामों में बदलाव देखने को मिलेगा।

दूसरे चरण के मतदान के लिए मंगलवार को कई हाई प्रोफाइल नेताओं ने असम में चुनाव प्रचार करने के लिए पहुंचे थे। हालांकि, दोपहर बाद मौसम खराब हो जाने के कारण चुनावी जनसभाओं पर काफी असर पड़ा। जिसमें प्रमुख रूप से कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की तीन चुनावी जनसभाओं को रद्द कर दिया गया। उन्होंने ट्वीटर के जरिए एक वीडियो संदेश जारी करते हुए मतदाताओं से कांग्रेस को जिताना का आह्वान किया।

चुनाव प्रचार करने वाले मुख्य नेताओं में भाजपा के राष्ट्रीय जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपेश बघेल, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सैकिया, भाजपा के असम प्रभारी वैजयंत जय पांडा शामिल रहे हैं। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, नेडा संयोजक डॉ. हिमंत विश्वशर्मा, पार्टी के असम प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार दास व अन्य प्रदेश स्तरीय नेताओं ने भी जमकर चुनाव प्रचार किया।

असम विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का प्रचार मंगलवार की शाम 06 बजे समाप्त हो गया। लेकिन, चुनाव आयोग द्वारा तय नियमों के अनुसार बाइक रैली को 72 घंटा पहले ही रोक दिया गया है। 01 अप्रैल को कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार सुबह 07 बजे से शाम 06 बजे तक मतदान होगा। दूसरे दौर की वोटिंग में कुल 26 महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इस चरण में मतदाताओं की सर्वाधिक संख्या होजाई में है। होजाई निर्वाचन क्षेत्र में 449 मतदान केंद्रों पर 265886 मतदाता अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का प्रयोग करेंगे।

पहले चरण में राताबाड़ी, पथारकांदी, करीमगंज उत्तर, करीमगंज दक्षिण, बदरपुर, हैलाकांदी, काटलीछेड़ा, अलगापुर, सिलचर, सोनाई, धौलाई, उदारबंद, लखीपुर, बरखोला, काटीगोरा, हाफलांग, हाफलांग, कार्बी बोकाजन, हावड़ाघाट, डिफू, बैठालांग्सू इसके अलावा कमलपुर, रंगिया, नलबाड़ी, पानेरी, उदालगुरी, माजबाट, कलाइगांव, सिपाझार, मंगलदै, दलगांव, जागीरोड, मोरीगांव, लहरीघाट, रोहा, नगांव, बढ़मपुर, जमुनामुख, होजाई और लमडिंग विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होना है।

राज्य निर्वाचन विभाग के सूत्रों ने बताया कि दूसरे चरण के मतदान में 345 उम्मीदवारों में से 37 पर अपराधजनित मामले दर्ज हैं। 37 में से 30 पर गंभीर मामलों में मुकदमा दर्ज है। इनमें भाजपा के 11, कांग्रेस और एआईयूडीएफ के 05, असम जातीय परिषद (एजेपी) के 03, असम गण परिषद (अगप) के 02 और ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक, सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया (कम्युनिस्ट) और यूपीपीएल के एक उम्मीदवार हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/अरविंद/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here