फॉलो करें

इतिहास के पन्नों में 02 मार्चः आइए याद करें देश की पहली महिला राज्यपाल सरोजनी नायडू को

48 Views

देश-दुनिया के इतिहास में 02 मार्च की तारीख तमाम अहम वजह से दर्ज है। यह तारीख देश की प्रथम महिला राज्यपाल सरोजनी नायडू के अवसान के रूप में इतिहास का अहम हिस्सा है। सरोजिनी नायडू को सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भी याद किया जाता है। स्वतंत्रता सेनानी के रूप में वह औपनिवेशिक शासन के अत्याचार के खिलाफ मजबूती से खड़ी रहीं। प्रसिद्ध कवि, नाटककार के रूप में उन्होंने सामाजिक मुद्दों को उठाया। देश को आजादी मिलने के ठीक दो साल बाद दो मार्च, 1949 को सरोजिनी नायडू का लखनऊ में निधन हो गया। उन्होंने 12 साल की उम्र में कविताएं लिखना शुरू किया था। उनकी कविताओं से प्रभावित होकर महात्मा गांधी ने उन्हें भारत कोकिला की उपाधि दी थी।

सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी, 1879 को हैदराबाद में एक बंगाली परिवार में हुआ था। उन्होंने मद्रास यूनिवर्सिटी से मैट्रिक परीक्षा में टॉप किया। 1895 में 16 साल की उम्र में नायडू हायर एजुकेशन के लिए इंग्लैंड गईं और अगले तीन वर्ष तक किंग्स कॉलेज लंदन और गिरटन कॉलेज में पढ़ाई की। 1898 में 19 साल की उम्र में सरोजिनी नायडू की शादी डॉक्टर गोविंद राजालु नायडू से हुई थी। 1914 में उनकी मुलाकात महात्मा गांधी से हुई और यहीं से वह देश की आजादी के आंदोलन से जुड़ गईं। गांधीजी के भारत आने से पहले उन्होंने बापू के साथ दक्षिण अफ्रीका में भी काम किया था। 1925 में वो कांग्रेस की पहली भारतीय महिला अध्यक्ष बनीं। वैसे तो कांग्रेस की पहली महिला अध्यक्ष एनी बीसेंट थीं, लेकिन सरोजिनी नायडू इस पद तक पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला हैं।

भारत में प्लेग महामारी के दौरान सरोजिनी नायडू के शानदार काम के लिए 1928 में उन्हें ‘केसर-ए-हिंद’ से सम्मानित किया गया। देश की आजादी के बाद उन्हें यूनाइटेड प्रोविंस (अब उत्तर प्रदेश) का राज्यपाल चुना गया। सरोजिनी नायडू देश की पहली महिला राज्यपाल हैं। वे अपने निधन तक इस पद पर रहीं। सरोजिनी नायडू की 135वीं जयंती से भारत में 13 फरवरी को राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत की गई।

महत्वपूर्ण घटनाचक्र

1807: अमेरिका की संसद यानी कांग्रेस ने देश में गुलामों के आयात पर रोक लगाने का कानून पास किया। इसे दास प्रथा को खत्म करने के लिए उठाया गया अहम कदम माना जाता है।

1991: श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में हुए एक कार बम धमाके में श्रीलंका के रक्षा उपमंत्री रंजन विजयरत्ने सहित 19 लोग मारे गए, 73 घायल हुए।

1995ः इक्वाडोर एवं पेरू ने संघर्ष को समाप्त करने पर समझौता किया।

1997ः चीन के रक्षा बजट में 12 प्रतिशत की वृद्धि।

1999ः व्यापक परमाणु परीक्षण संधि पर हस्ताक्षर के लिए भारत के साथ किसी गुप्त समझौते के समाचार का अमेरिका ने खंडन किया।

2000ः चिली के पूर्व सैनिक तानाशाह जनरल आगस्टो पिनोशे को ब्रिटेन ने रिहा किया। स्वदेश रवाना।

2002ःफिलिस्तीन ने इजराइल से सभी सम्बन्ध तोड़े।

2006ः नई दिल्ली में भारत और अमेरिका के बीच ऐतिहासिक परमाणु समझौता।

2008ः आइगेट कॉर्पोरेशन ने फनी मूर्ति को अपना मुख्य परिचालन अधिकारी नियुक्त किया।

2008ः हमास के इस्माइल हानिया के दफ्तर पर इजराइल का हमला।

2008ः ईरान के राष्ट्रपति महमूद अहमदी नेजाद अपनी ऐतिहासिक यात्रा पर इराक पहुंचे।

2008ः नेपाल सरकार ने पूर्वी पहाड़ी क्षेत्रों में अधिक स्वायत्तता की मांग को लेकर संघर्षरत देसी जातीय समूहों के एक गठबंधन से समझौता किया।

2009ः भारत निर्वाचन आयोग ने 16 अप्रैल से 13 मई के बीच पांच चरणों में लोकसभा चुनाव कराने की घोषणा की।

2009ः रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और उसकी अनुषंगी रिलायंस पेट्रोलियम के निवेशकों के निदेशकों के बोर्ड ने दोनों कंपनियों के विलय के प्रस्ताव को मंजूदी दी।

2009: पश्चिमी अफ्रीकी देश गिनी-बिसाउ के तीन बार के राष्ट्रपति जोआओ बर्नार्डो विएरा की सैनिकों ने हत्या कर दी।

जन्म

1924ः हिन्दी फिल्म निर्माता-वितरक गुलशन राय।

1926ः भाकपा नेता पीके वासुदेवन नायर।

1953ः बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के आयुर्वेद संकाय के पूर्व प्रमुख और क्षारसूत्र चिकित्सा पद्धति के विशेषज्ञ मनोरंजन साहू।

निधन

1949ः देश की पहली महिला राज्यपाल सरोजिनी नायडू।

2010 भारत के पूर्व हॉकी खिलाड़ी सैयद अली

2021ः प्रसिद्ध शास्त्रीय वादक तथा संगीतकार बीएस नारंग।

दिवस

-सरोजनी नायडू की पुण्यतिथि।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल