एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन अटैक के बाद सरकार अलर्ट:PM मोदी ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई

ड्रोन पॉलिसी पर शाह, राजनाथ और डोभाल से की चर्चा

0
23
एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन अटैक के बाद सरकार अलर्ट:PM मोदी ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई

नई दिल्ली/श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में पिछले 72 घंटे के दौरान एयरफोर्स स्टेशन पर हुए ड्रोन हमले और दूसरी आतंकी गतिविधियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई। मीटिंग में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल मौजूद थे। इस मीटिंग में प्रधानमंत्री ने देश की ड्रोन पॉलिसी पर भी चर्चा की है।

बैठक से पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को एयरफोर्स चीफ ने भी ब्रीफ किया। सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में रक्षा क्षेत्र में भविष्य की चुनौतियों और सुरक्षा बलों को आधुनिक उपकरणों से लैस करने पर भी बातचीत हुई है।

देश में पहली बार ड्रोन से हमला, 3 दिन में 3 ड्रोन एक्टिविटी
26 जून से मंगलवार तक जम्मू-कश्मीर में तीन ड्रोन एक्टिविटी हो चुकी है। जम्मू में सुंजवान मिलिट्री स्टेशन के पास सोमवार देर रात संदिग्ध ड्रोन नजर आया। कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि कुंजवानी और कालूचक इलाके में भी ड्रोन दिखा है, हालांकि अभी यह पुष्टि नहीं हो पाई है कि तीनों जगह एक ही ड्रोन दिखा या ये अलग-अलग थे।

इस घटना के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। बीते दिन दिन में यहां तीसरी ड्रोन एक्टिविटी है। इससे पहले शनिवार रात एयर फोर्स स्टेशन पर ड्रोन अटैक हुआ था। दूसरी घटना रविवार को हुई थी। इसमें कालूचक मिलिट्री स्टेशन के पास ड्रोन उड़ते देखे गए थे।

 पहली घटना: जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन से दो धमाके
2 दिन पहले शनिवार और रविवार की दरमियानी रात जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन से दो धमाके किए गए थे। इस हमले में एयरफोर्स स्टेशन की छत को नुकसान हुआ था और 2 जवान घायल भी हुए थे। ड्रोन के जरिए एयरबेस के भीतर दो IED गिराए गए थे। नुकसान ज्यादा नहीं हुआ। यह अपनी तरह का पहला हमला था। दोनों धमाके शनिवार रात डेढ़ से दो बजे के बीच हुए। ब्लास्ट इंडियन एयरक्राफ्ट्स के करीब ही हुआ था। यह जगह इंटरनेशनल बॉर्डर से 14 किलोमीटर की दूरी पर है।

दूसरी घटना:कालूचक मिलिट्री स्टेशन पर दो ड्रोन दिखे, सेना ने की फायरिंग
रविवार-सोमवार की रात जम्मू के ही कालूचक मिलिट्री स्टेशन पर 2 ड्रोन दिखाई दिए हैं। सेना ने उन्हें गिराने के लिए फायरिंग की, पर वो अंधेरे में गायब हो गए। मिलिट्री ने पूरे इलाके में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन शुरू किया है। DD न्यूज के मुताबिक, रविवार रात 11.30 बजे और सुबह 1.30 बजे अनमैन्ड एरियल व्हीकल (UAV) मिलिट्री बेस पर नजर आए। इसके बाद सेना अलर्ट पर है।

तीसरी घटना: सुंजवान मिलिट्री स्टेशन के पास दिखा ड्रोन, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट
जम्मू में सुंजवान मिलिट्री स्टेशन के पास सोमवार देर रात संदिग्ध ड्रोन नजर आया। कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि कुंजवानी और कालूचक इलाके में भी ड्रोन दिखा है, हालांकि अभी यह पुष्टि नहीं हो पाई है कि तीनों जगह एक ही ड्रोन दिखा या ये अलग-अलग थे। इस घटना के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। बीते दिन दिन में यहां तीसरी ड्रोन एक्टिविटी है।

अवंतीपोरा में SPO, उनकी पत्नी और बच्ची की हत्या
अवंतीपोरा के हरिपरिगाम गांव में रहने वाले SPO फैयाज अहमद के घर में रविवार रात करीब 11 बजे कुछ हथियारबंद लोग जबरदस्ती घुस आए। उन्होंने परिवार पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इस हमले में अहमद के अलावा उनकी पत्नी राजा बानो और बेटी राफिया गंभीर रूप से घायल हो गए। कुछ देर बाद अहमद और उनकी पत्नी ने दम तोड़ दिया। 25 साल की राफिया को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उनकी भी मौत हो गई।

पारिंपोरा में एनकाउंटर: 2 आतंकी ढेर
श्रीनगर के पारिंपोरा में मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया। इनमें पाकिस्तानी आतंकी नदीम अबरार और एक उसका स्थानीय साथी शामिल है। अबरार लश्कर-ए-तैयबा का टॉप कमांडर भी था। सोमवार शाम से जारी इस एनकाउंटर में सेना का एक असिस्टेंट कमांडेंट, सीआरपीएफ का एक सब-इंस्पेक्टर और एक जवान घायल हो गए थें। इनका इलाज चल रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here