कांग्रेस उम्मीदवार संजीव रॉय ने काटलीछोरा सीट के लिए भरा नामांकन

0
413
कांग्रेस उम्मीदवार संजीव रॉय ने काटलीछोरा सीट के लिए भरा नामांकन

शिलचर: कांग्रेस उम्मीदवार संजीव रॉय ने काटलीछोरा विधानसभा सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन के समय बड़ी संख्या में लोग उनके साथ मौजूद रहे। रॉय ने अपने बयान में कहा है कि पार्टी ने चुनाव लड़ने का उन्हें एक अवसर दिया है। इसके लिए पार्टी के आलाकमान का आभार व्यक्त करते है।

विधानसभा चुनाव में जीतकर आते है तो काटलीछोरा की जनता की बेहतरी व उनकी प्रगति के लिए काम करना चाहेंगे। चाय बागानों में अनेक समस्याएं है जिसके निदान के लिए वह खड़े रहना चाहते है। श्रमिकों के मज़दूरी वृद्धि हेतु उनकी पार्टी ने जो वादा किया इसके क्रियान्वयन हेतु प्रयास करना चाहेंगे।

बेरोजगारी को दूर करने में एक बड़ी भूमिका की ज़रूरत होती है इसे भी अपने जेहन में रखना चाहते है। संजीव रॉय पूर्व विधायक स्वर्गीय गौरीशंकर राय के पुत्र है। उनके पिता इस सीट से चार बार विधायक रह चुके है। बराक घाटी के वे एक दमदार नेता के रूप जाने जाते थे।

संजीव अपने पिता के नक़्शे कदम पर चलते हुए अनेक वर्षों से राजनीति में है। उन्होंने असम प्रदेश कांग्रेस समिति के समक्ष टिकट की दावेदारी किया था। टिकट पाने के लिए खूब मेहनत की। आखिरकार उनकी मेहनत रंग लायी। पार्टी ने उनकी सामाजिक गतिबविधियों और काटलीछोरा में जनता के बीच मौजूदगी को देखते हुए टिकट दिया।

संजीव ने कहा कि स्थानीय मुद्दों को तवज्जो देते हुए जनता की आवाज़ को उठाते क्षेत्र की विकास उनकी पहली प्राथमिकता में है। ज्ञातव्य हो कि काटलीछोरा में चाय बागान के मतदाताओं का मत जिसके पक्ष में पड़ता है जीत उसी की होती है। संजीव चाय जनगोष्ठी हिंदीभाषी समुदाय से है।

ऐसे में यदि बागान के मत उनके पड़ते है तो कांग्रेस महाजोट से एआईयूडीएफ से उम्मीदवार खड़े होने के बावजूद कांग्रेस इस सीट को अपने झोली में ले आ सकती है। लेकिन इसके लिए केवल अकेले चाय बागान के ही नहीं हिंदू बंगाली और आदिवासी मतदाताओं के मत भी मिलने होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here