कोरोना पीड़ितों की संख्या में वृद्धि पर कामरूप (मेट्रो) प्रशासन चिंतित

कोविड नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध होगी कठोर कार्रवाई

0
185
कोरोना पीड़ितों की संख्या में वृद्धि पर कामरूप (मेट्रो) प्रशासन चिंतित

गुवाहाटी, 11 मई (हि.स.)। कामरूप (मेट्रो) जिला में कोविड से जुड़ी ताजा स्थिति की समीक्षा के लिए मंगलवार को जिलाधिकारी के कार्यालय बैठक कक्ष में अलग-अलग दो बैठकें हुईं। बैठक में नगर संयुक्त पुलिस आयुक्त देवराज उपाध्याय, गुवाहाटी नगर निगम के अपर आयुक्त पुलक महंत, जिला विकास आयुक्त निवेदन दास पटवारी सहित जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

उपायुक्त विश्वजीत पेगू ने जिला में दिन-प्रतिदिन कोविड मामलों की संख्या में वृद्धि पर टिप्पणी करते हुए कहा कि जिला में हाल ही में हुई वृद्धि कुछ व्यक्तियों द्वारा कोविड नियमों का कड़ाई से पालन नहीं करने के कारण है। उपायुक्त ने जनता से आग्रह किया कि वे इस संबंध में अधिक सतर्क रहें और पास के कोविड परामर्श केंद्र में जाएं और कोविड का परीक्षण कराएं।

उन्होंने कहा कि कभी-कभार कोविड टेस्ट शरीर में वायरस की मौजूदगी का पता जल्दी लगाते हैं और ऐसे मामलों में उचित कार्रवाई से जल्दी ठीक हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड मामलों में मरने वालों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ रह है क्योंकि अन्य बीमारियों से पीड़ित लोग कोविड के कारण देर से अस्पताल में भर्ती होते हैं।

उपायुक्त ने पुलिस प्रशासन से यह भी आह्वान किया कि कोंटेनमेंट जोन घोषित किए गए वार्ड 8, वार्ड 16 व वार्ड 28 के निवासियों ने कोंटेनमेंट जोन के नियमों का पालन किया है या नहीं, इस पर भी उचित कार्रवाई की जाए और क्षेत्र में प्रवेश व निकास पर लगी पाबंदियों का उल्लंघन करने वालों पर भी उचित कार्रवाई की जाए। दूसरी ओर अतिरिक्त उपायुक्त चिन्मय नाथ की अध्यक्षता में कोविड टेस्टिंग सेंटर के विषय पर एक और बैठक हुई।

बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त शर्मिष्ठा बोरा व विपुल दास, स्वास्थ्य के जिला संयुक्त निदेशक डॉ गणेश सैकिया व स्वास्थ्य विभाग के विभिन्न अधिकारियों ने अतिरिक्त उपायुक्त को कोविड परीक्षण केंद्र के तकनीशियनों सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के साथ अपने संबंधित केंद्रों पर कॉविड टेस्ट कराने के अलावा संबंधित क्षेत्र का भ्रमण कर कोविड परीक्षण कराने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि कोंटेनमेंट जोन घोषित वार्डों की ताजा स्थिति जानने के लिए वार्डों के निवासियों की जांच करना भी बेहद जरूरी है। गौरतलब है कि वर्तमान में जिला में 63 कॉविड काउंसलिंग सेंटर सक्रिय हैं और लोग सुबह 09 बजे से इन सेंटरों पर कॉविड की जांच करवा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here