डलू बस्ती के एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता रतन मनी बर्मन का स्वर्गवास

0
157
डलू बस्ती के एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता रतन मनी बर्मन का स्वर्गवास
बी एम शुक्लावैद्य, बिहारा: एक प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता और डलू बस्ती के निवासी रतन मनी बर्मन का सोमवार 28 जून को सुबह 11:30 बजे निधन हो गया। मृत्यु के समय वे 82 वर्ष के थे। वह मिजोरम सरकार के सहकारिता विभाग में रजिस्ट्रार के पद से सेवानिवृत्त हुए। नौकरी से सेवानिवृत्त होने के बाद, उन्होंने विभिन्न सामाजिक संगठनों में शामिल होकर समाज की बेहतरी करने के लिए कई प्रयास किए। विशेष रूप से उन्होंने डलू क्षेत्र में विद्याभारती द्वारा संचालित अखिल भारतीय शैक्षणिक संस्थान सरस्वती शिशु निकेतन के लंबे समय तक सचिव के रूप में सेवा करके स्कूल के बुनियादी ढांचे के विकास में एक मजबूत भूमिका निभाई।
उनके निधन से स्कूल और परिवार के लोग गहरा सदमे में है। विद्यालय परिवार की ओर से प्रधानचार्य विवेकानंद देेव पुरकायस्थ ने अंतिम दर्शन कर दिवंगत आत्मा की शांति की कामना की। उन्होंने निखिल काछार हेडिंब बर्मन एसोसिएशन की अध्यक्षता की थी । राष्ट्रवादी सोच से प्रेरित होने के लिए उन्होंने बाद में भारतीय जनता पार्टी के विभिन्न दायित्वों का पालन किया। उनकी मौत से सभी इलाकों में मातम छाया है।अपनी मृत्यु तक, उन्होंने रामकृष्ण जी के विचारधारा में विश्वास किया और खुद को रामकृष्ण भावान्दोलन से जोड़ा।उनके परिवार में पत्नी, एक बेटा, एक बेटी और एक पोती, को छोड़ के गए है। डलू हायर सेकेंडरी स्कूल के पूर्व प्राचार्य अमरेंद्र दास ने दिवंगत रतन मनी को श्रद्धांजलि दी और परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here