डॉ. हिमंत ने संभाली मुख्यमंत्री की कुर्सी, कैबिनेट की पहली बैठक मंगलवार को

0
100
डॉ. हिमंत ने संभाली मुख्यमंत्री की कुर्सी, कैबिनेट की पहली बैठक मंगलवार को
गुवाहाटी, 10 अप्रैल (हि.स.)। असम के 15वें मुख्यमंत्री के रूप में भाजपा विधायक दल के नेता डॉ हिमंत बिस्वा शर्मा ने सोमवार को मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल ली। दोपहर राजधानी के श्रीमंत शंकरदेव कालाक्षेत्र परिसर स्थित श्रीमंत शंकरदेव अंतरराष्ट्रीय प्रेक्षागृह में शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री डॉ शर्मा ने जनता भवन स्थित मुख्यमंत्री कार्यालय में जाकर औपचारिक रूप से मुख्यमंत्री का कार्यभार संभाला।
इस अवसर पर असम सरकार के कई वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद थे। इससे पूर्व कलाक्षेत्र में एक भव्य समारोह के दौरान मुख्यमंत्री के रूप में डॉ शर्मा ने शपथ ली। जहां, राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी ने डॉ शर्मा के साथ-साथ अन्य 13 विधायकों को भी कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ दिलाई। इस अवसर पर पूरा का पूरा हॉल लोगों से खचाखच भरा हुआ था।
शपथ ग्रहण समारोह के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया गया था। हिमंत बिस्वा शर्मा के समर्थक के साथ ही बड़ी संख्या में अन्य बुलाए गए मेहमान भी इस समारोह में शामिल थे। भाजपा के कार्यकर्ताओं में विशेष प्रकार का उत्साह देखा जा रहा था।
शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, भाजपा के राष्ट्रीय पर्यवेक्षक केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, अरुण सिंह, राष्ट्रीय सांगठनिक महासचिव बीएल संतोष, अजय जामवाल, पवन शर्मा, राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सैकिया, यूपीपीएल पार्टी के अध्यक्ष प्रमोद बोडो के साथ ही तीनों पार्टियों के नवनिर्वाचित विधायक, तीनों पार्टियों के वरिष्ठ पदाधिकारी, पार्टी कार्यकर्ता और बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद थे।
मुख्यमंत्री डॉ शर्मा की पत्नी रिनिकी भुइंया शर्मा, उनकी मां मृणालिनी देवी, पुत्र व पुत्री के साथ ही उनके परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद थे। हिमंत बिस्वा शर्मा के मुख्यमंत्री बनने से असम की राजनीति में एक नए युग की शुरुआत मानी जा सकती है। असम की राजनीति में पहली बार निचले असम का कोई व्यक्ति पूर्णकालिक मुख्यमंत्री बना है।
इससे पहले डॉ भूमिधर बर्मन तथा सैयदा अनवारा तैमूर निचले असम से मुख्यमंत्री अवश्य बने थे लेकिन कुछ समय के लिए ही। शपथ लेने के बाद डॉ शर्मा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि उनके कैबिनेट की पहली बैठक मंगलवार को होगी, जिसमें कोविड-19 के साथ ही अन्य कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की जाएगी।
राज्य की जनता में डॉ शर्मा को लेकर काफी उम्मीदें देखी जा रही हैं। सोशल मीडिया में भी डॉ शर्मा को लेकर काफी उत्साह भरे पोस्ट देखे जा रहे हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि हिमंत कैबिनेट की पहली बैठक में क्या-क्या निर्णय लिये जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here