दुमदुमा राजस्व कोदूगुडी अंचल का भू कटाव का निरीक्षण किया  मंत्री पीयूष हजारिका ने 

0
141
दुमदुमा राजस्व कोदूगुडी अंचल का भू कटाव का निरीक्षण किया  मंत्री पीयूष हजारिका ने 
दुमदुमा 15 जुन: दुमदुमा राजस्व अंतर्गत कोदूगोडी अंचल में ब्रह्मपुत्र नदी की समतल नदी अंतर्गत अनंत नाला द्वारा भू कटाव के प्रति संज्ञान लेते हुए कल जलसंपदा मंत्री पीयूष हजारिका  ने तीन नंबर कोदोगूड़ी और गरीबा टीम अंचल के भू कटाव के उपाय तलाशने के हेतु एवं स्थाई समाधान के लिए जलसंपदा विभाग के अभियंता एवं अधिकारियों से बातचीत की। मालूम हो की  तिनसुकिया जिले के सिलीगुड़ी अंचल में सन 1992 में सुमनी बांध के टूटने से छोटी सी धारा वाली अनंत नाला (डांगरी नदी) ने विकराल रूप धारण कर लिया था, जिसके कारण कई गांव जलमग्न हो गए थे। बरसात के दिनों में नदी के उक्त गांव को भू कटाव की समस्या पैदा कर देती है। इतना ही नहीं कद्दू गुडी ऐतिहासिक श्री श्री माया मारा टीपुक सिमल गुड़ी बज पुर सत्र काा एक तिहाई जमीन नदी के आगोश में समा गया है।
विगत वर्षों में भू कटाव पर सरकार द्वारा कारवाई मात्र लीपापोती किए जाने से समस्या जस की तस है, इस कारण ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। 1992 से विस्थापित 12 परिवार अभी भी आश्रय शिविर में शरण लिए हुए हैं। कदेगुड़ी( डांगड़ी नदी) अनंत नाला से उत्पन्न भू कटाव के स्थाई समाधान हेतू सरकार का दरवाजा बार-बार खटखटाया गया किंतु सरकार द्वारा  उचित कारगर कदम उठाने में नाकाम होने के कारण समस्या जस की तस बन कर रह गई है। बरलहाल कल मंत्री द्वारा उक्त अंचल का दौरा से स्थानीय लोगों में आस जगी है। जलसंपदा मंत्री द्वारा इस समस्या को निपटाने हेतु कार्य को प्रगति देने का विभाग को आदेश दिया गया । मंत्री के साथ अंचल के भ्रमण के दौरान केंद्रीय मंत्री रामेश्वर तेली, लखीमपुर सांसद प्रदान बरुआ, दुमदुमा विधायक रूपेश ग्वालाा, सांसद सचिव मुनेंद्र मोरान एवं जलसंपदा विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here