दुर्गाकोना पब्लिक स्कूल को मुक्त कराया गया

0
126
दुर्गाकोना पब्लिक स्कूल को 18 साल बाद, काफी संघर्ष के बाद मुक्त कराया गया। इसमें बागान मैनेजर, बागान पंचायत सहित दुर्गाकोना बागान के शिक्षित बुद्धिजीवियों का अहम योगदान रहा। दिनांक 29/08/2021 रविवार सुबह 10 बजे दुर्गाकोना पब्लिक स्कूल में दुर्गाकोना बागान मैनेजर (स्कूल के स्थायी सभापति सुमित दुबे)  द्वारा एक साधारण सभा बुलाया गया। सभा में पिछले कमेटी को रद्द करके एक मजबूत कमेटी का गठन किया गया। सभा में विस्तृत आलोचनाओं से पता चला पिछले 18 साल में  बाबुल कुमार ने स्कूल को पुरा बर्बाद करके चार लाख में बर्तमान प्रधान अध्यापक काफिल उद्दीन बरभुइंया को पुरा स्कूल बेचने का प्रस्ताव रखा था, जो बरभुइयाजी ने नामंजूर कर दिया। स्कूल कमेटी और बरभुइया सर के नेतृत्व में स्कुल संचालन का दायित्य दिया गया और यह भी प्रस्ताव लिया गया की बाबूल कुमार को स्कूल परिसर में प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। अब इस स्कूल के सु-संचालन और सरकारीकरण (grant) करने की ओर आगे बढ़ेगा जो बाबूल कुमार नहीं चाहते थे।
                 इस विषय में बाबुल कुमार से संपर्क किए जाने पर उन्होंने कहा कि मैंने अपने जीवन की सारी कमाई लगाकर विद्यालय शुरू  किया था, कुछ समस्या के चलते मैंने विद्यालय काफिल उद्दिन बड़भुइंया को चलाने के लिए दिया था। अभी वही कुछ स्थानीय लोगों से मिलकर राजनीति कर रहे हैं, विद्यालय को हड़पना चाहते हैं। विद्यालय का सब कुछ मेरे नाम है मैं अदालत में जाऊंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here