फॉलो करें

दूसरे चरण में बंगाल की तीन लोकसभा सीटों पर वोटिंग, 47 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर

19 Views

कोलकाता, 25 अप्रैल । पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष समेत 47 उम्मीदवारों की किस्मत शुक्रवार को राज्य के तीन लोकसभा क्षेत्रों में दूसरे चरण के चुनाव में ईवीएम में बंद हो जाएगी। तीनों लोकसभा क्षेत्रों रायगंज, दार्जिलिंग और बालुरघाट में भाजपा के मौजूदा सांसद हैं, जहां शुक्रवार को मतदान होगा। तीन निर्वाचन क्षेत्रों में से, उत्तरी दिनाजपुर जिले के रायगंज निर्वाचन क्षेत्र की संवेदनशीलता के कारण वहां सुरक्षा कड़ी है।

रायगंज में इस बार भाजपा के उम्मीदवार कार्तिक पॉल हैं, जिन्होंने निर्वाचन क्षेत्र से मौजूदा लोकसभा सदस्य देवश्री चौधरी का स्थान लिया है। वह इस बार कोलकाता दक्षिण सीट से चुनाव लड़ रही हैं। पॉल के निकटतम प्रतिद्वंद्वी तृणमूल कांग्रेस के कृष्णा कल्याणी और कांग्रेस के अली इमरान रम्ज़ उर्फ विक्टर हैं। इस बार रायगंज में कुल 20 उम्मीदवार हैं, जिनमें से 19 पुरुष और एक महिला हैं। शुक्रवार को जिन तीन निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान हो रहा है, उनमें रायगंज में सबसे अधिक 418 संवेदनशील बूथ हैं। दार्जिलिंग में तृणमूल कांग्रेस ने पूर्व नौकरशाह गोपाल लामा, भाजपा ने अपने मौजूदा सांसद राजू बिष्ट और कांग्रेस ने मुनीष तमांग को मैदान में उतारा है।

कर्सियांग विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के मौजूदा विधायक बिष्णु प्रसाद शर्मा को टिकट नहीं मिलने पर वे इस बार दार्जिलिंग से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं।दार्जिलिंग में इस बार कुल 14 उम्मीदवार हैं, जिनमें से 12 पुरुष और दो महिलाएं हैं। दार्जिलिंग में संवेदनशील बूथों की संख्या 408 है। बालुरघाट में भाजपा के मौजूदा लोकसभा सांसद और राज्य पार्टी अध्यक्ष सुकांत मजूमदार के खिलाफ मुख्य प्रतिद्वंद्वी तृणमूल कांग्रेस के राज्य मंत्री बिप्लब मित्रा और रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी) के जॉयदेब सिद्धांत हैं।

इस बार बालुरघाट में कुल 13 उम्मीदवार हैं और सभी पुरुष हैं। दार्जिलिंग में संवेदनशील बूथों की संख्या 308 है। पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) कार्यालय के रिकॉर्ड के अनुसार वर्तमान में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 299 कंपनियां पश्चिम बंगाल में हैं, जिनमें से 272 कंपनियां शुक्रवार को तीन निर्वाचन क्षेत्रों के लिए तैनात की जाएंगी। बाकी को रिजर्व में रखा जाएगा। सीएपीएफ को 12 हजार 983 राज्य पुलिस कर्मियों द्वारा सहायता प्रदान की जाएगी। रायगंज में सीएपीएफ की सबसे अधिक 111 कंपनियों की अलॉटमेंट है, इसके बाद दार्जिलिंग में 88 कंपनियों और बालुरघाट में 73 कंपनियों की अलॉटमेंट है। मतदान शुक्रवार सुबह सात बजे शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल