फॉलो करें

बड़ा मामदा में रविदास परिवार पर हुए हमले के खिलाफ डीसी और एसपी को दिया गया ज्ञापन

198 Views
आज ऑल असम हरिजन उन्नयन कमेटी की ओर से जिलाधिकारी और जिला पुलिस अधीक्षक को लखीपुर विधानसभा क्षेत्र के बड़ा मामदा गांव में 2 जून को रविदास परिवार पर हुए हमले के खिलाफ ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन देने के पश्चात मीडिया को संबोधित करते हुए कमेटी के अध्यक्ष बृजलाल रविदास ने तत्काल हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग की। उन्होंने कहा कि 10 दिन हो गए आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है। रविदास परिवार असुरक्षा के बीच जी रहा है, इस हमले में कई लोग घायल हुए थे किंतु मेडिकल में उन्हें एडमिट नहीं किया गया। वृद्ध महिला के ऊपर हमला हुआ उनकी स्थिति अच्छी नहीं है। कमेटी ने पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन से तत्काल हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
प्रतिनिधिमंडल में बृजलाल रविदास के साथ कमेटी के वरिष्ठ कार्यकर्ता शीतल प्रसाद रविदास और बाबुल रविदास शामिल थे।
हमारे लखीपुर के विशेष प्रतिनिधि ने मामले की छानबीन की और उसमें जो तथ्य उभरकर सामने आया उसके अनुसार बड़ा मामदा में रविदास परिवार के ऊपर जो हमला हुआ है वो एक प्रेम विवाह को लेकर एक दूसरे पर वाद विवाद, आरोप-प्रत्यारोप बहुत दिनों से चलता आ रहा था।बड़ा मामदा के रहने वाले नरसिंह ग्वाला की बहन सीता ग्वाला ने मोतीलाल रविदास के साथ प्रेम विवाह कर लिया। तभी से इन दोनों परिवार के साथ अशांति का माहौल बना हुआ है। तभी से बीच-बीच में जात पात लेकर गाली गलौज, प्रताड़ना, अपमान सहना पड़ रहा है, मोतीलाल रविदास के परिवार को।  कुछ दिन पहले मोतीलाल रविदास ने विवादित परिवार के एक बकरा को मारकर घायल कर दिया था तभी से एक दूसरे के बीच काफी तनाव बना हुआ था।  तनाव को चलते गत 2 जून को नरसिंह ग्वाला, सुरेश भर  इन लोगों ने मोतीलाल रविदास के परिवार वालों को साथ भिड़ंत हो गई और मार दंगा हो गया।  जिसके चलते मोतीलाल रविदास के साथ उसकी मां धरौली रविदास, पत्नी सीता रविदास,  भतीजा संजू रविदास बुरी तरह से घायल हो गए। इस परिवार की फिलहाल जो हालत है घायलों की खाना बनाने और खिलाने का भी आदमी घर पर नहीं है, बहुत ही बुरी स्थिति है, अभी  इस परिवार का।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल