बराक घाटी के दौरे पर स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री केशब महंत 

0
224
बराक घाटी के दौरे पर स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री केशब महंत 

शंकरी चौधुरी, हाइलाकांदी, 17 मई: स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री केशब महंत ने सोमवार को करीमगंज जिला उपायुक्त कार्यालय के कन्फारेंस हॉल में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य, डीडीएमए और अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक में कोविद ​​​​-19 स्थिति की समीक्षा की। बैठक की अध्यक्षता करते हुए, मंत्री महंत ने कहा कि जिला प्रशासन के अधिकारियों को कोविद महामारी को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम करना होगा। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि अस्पतालों में भर्ती कोविद रोगियों को पहले ऑक्सीजन दी जाए और बाद में अन्य औपचारिकताओं का पालन किया जाए। मंत्री ने जिला प्रशासन से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बुनियादी ढांचे, कोविड परीक्षण और टीकाकरण में तेजी लाने को कहा। पीडब्ल्यूडी (भवन) को निर्देश दिया कि जिले में ऑक्सीजन प्लांट की योजना और अनुमान सहित ब्लूप्रिंट जल्द से जल्द मुख्य अभियंता के कार्यालय में जमा करें। उपायुक्त अंबामुथन एमपी ने मंत्री को मौजूदा कोविद ​​​​स्थिति, बीमारी के और प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन द्वारा की गई पहल, ऑक्सीजन बेड, टीकों और अन्य उपकरणों की उपलब्धता से अवगत कराया। उपायुक्त ने कहा कि राज्य सरकार से समय-समय पर प्राप्त एसओपी को लागू करने के लिए हर संभव प्रयास किए गए हैं।

समीक्षा बैठक में सांसद कृपानाथ मालाह, विधायक कृष्णेंदु पाल, सिद्देक अहमद और बिजय मालाकार, एडीसी, एसपी, सीईओ, जिला परिषद, सीओ और स्वास्थ्य और लाइन विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
इसके पहले स्वास्थ्य मंत्री ने करीमगंज का दौरा करते वक्त सिविल अस्पताल की बदहाली देखी और अस्पताल अधीक्षक डॉ. अरुणव चौधुरी को धमकाया। उन्होंने ठेकेदार अब्दुल कुद्दुस को लापरवाही बरतने पर कारवाई कीी धमकी भी दी। पिछले एक साल से अधिक समय में जो सब काम नहीं हुआ है, वह काम अगले बीस दिनों के भीतर ऐसा करने के निर्देश दिए हैं, स्वास्थ्य मंत्री केशव महंत ने। आज दोपहर में मंत्री ने राज्य के स्वास्थ्य विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, जिला उपायुक्त सहित शीर्ष अधिकारियों के साथ करीमगंज सिविल अस्पताल का दौरा किया। इसके अलावा कोविड वार्ड का भी दौरा किया और मरीजों की जानकारी ली। एक बार उन्होंने अस्पताल के अंदर कूड़े का ढेर देखा तो आग बबूला हो गए। अस्पताल अधीक्षक ने अपने बचाव में कुछ कहने की कोशिश की लेकिन मंत्री ने सुनने से इनकार कर दिया।
बैठक के बाद मंत्री ने पत्रकारों से मुलाकात की। उन्होंने संवाददाताओं से कहा की अगले बीस दिनों के भीतर करीमगंज सिविल अस्पताल में आईसीयू बनाया जाएगा। करीमगंज सरकारी अस्पताल में अब 150 बेड हैं। 60 और बेड जोड़े जाएंगे। उन्होंने आश्वासन दिया कि अगले दो महीनों में एक ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र बनाया जाएगा।
इसके बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री केशब महंत ने हाइलाकांदी का दौरा किया। उन्होंने पहले सिविल अस्पताल एवं कोविद वार्ड का दौरा किया। इसके बाद मंत्री ने जिला उपायुक्त कार्यालय के कन्फारेंस हॉल में आयोजित एक समीक्षा बैठक की। जिला उपायुक्त मेघ निधि दहल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी गण उपस्थित थे। बाद में पत्रकारों के साथ उन्होंने मुलाकात की। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, अगले 10 जुन के अंदर हाइलाकांदी के सिविल अस्पताल में 20 बेड बिस्तर की एक आईसीयू बनाया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि, जिले में ऑक्सीजन मौजूद हैं।
सोमवार की रात्रि शिलचर में बिताने के बाद मंगलवार को 10:00 बजे मेडिकल कॉलेज जाएंगे और मेडिकल कालेज से 11 बजे जिलाधिकारी कार्यालय में समीक्षा बैठक के पश्चात एअरपोर्ट जाएंगे। वहां से विमान द्वारा गुवाहाटी के लिए प्रस्थान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here