फॉलो करें

बीसीपीएल द्वारा डी.एच.एस.के. वाणिज्य महाविद्यालय में कैरियर काउंसिलिंग कार्यक्रम आयोजित

133 Views

डिब्रूगढ़: डिब्रूगढ़ के अग्रणी शैक्षणिक संस्थान डी.एच.एस.के. वाणिज्य महाविद्यालय के सभागार में विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य के लिए ब्रह्मपुत्र क्रैकर एंड पॉलिमर लिमिटेड (बीसीपीएल) के तत्वावधान एवं डी.एच.एस.के. वाणिज्य महाविद्यालय के हिंदी विभाग की सहयोगिता से शुक्रवार को “पूर्वोत्तर क्षेत्र में हिंदी में रोजगार, शैक्षिक योग्यताएं तथा आवेदन प्रक्रिया” विषय पर कैरियर काउंसिलिंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कैरयर काउंसिलिंग कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य छात्रों के लिए समग्र विकास के साथ-साथ महत्वपूर्ण करियर संकल्पों और करियर से संबंधित संसाधनों के मार्ग पर आवश्यक कौशल विकसित करने में शिक्षार्थियों की सहायता करना तथा छात्रों को सही करियर विकल्प चुनने में मदद करने के साथ-साथ करियर मार्गदर्शन और परामर्श से संबंधित जरूरतों को पूरा करने के लिए एक गतिशील मंच बनाना है। उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में डी.एच.एस.के. वाणिज्य महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. के.एम.भागवती एवं विशिष्ठ अतिथि के रूप में भारत सरकार के गृह मंत्रालय के राजभाषा विभाग के प्रतिनिधि बदरी यादव के साथ ही मुख्य वक्ता के रुप में पूर्वोंचल प्रहरी के स्टाफ रिपोर्टर मनोज पाण्डेय और केन्द्रीय विद्यालय डिब्रूगढ़ के स्नातकोत्तर शिक्षक (हिंदी) ओंकार नाथ तिवारी के अलावा महाविद्यालय के उप प्राचार्य शैलेन गोगोई तथा आई.क्यू.ए.सी. के प्रमुख डॉ. टंक प्रसाद उपाध्याय को मंचासीन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्जवलन तथा छात्रों द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वंदना के साथ किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए बदरी यादव ने अपने संबोधन में कहा कि इस प्रकार के कैरियर काउंसिलिंग कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य फोकस शैक्षणिक, करियर और व्यक्तिगत, सामाजिक विकास के क्षेत्रों में शिक्षण, प्रशिक्षण संसाधन प्रदान करना और छात्रों को उनकी भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करना है। इन कार्यक्रमों से बड़ी संख्या में छात्र प्रभावित होते है तथा छात्रों के लिए उनके वांछित क्षेत्र में रोजगार योग्य बनने में मदद मिलता है। कैरयर काउंसिलिंग का आयोजन दो सत्रों में किया गया था। प्रथम सत्र में पूर्वोंचल प्रहरी के स्टाफ रिपोर्टर मनोज पाण्डेय ने हिंदी पत्रकारिता के महत्व, पदों की स्थिति, शैक्षिक योग्यताएं, हिंदी भाषा के विकास तथा वास्तविक रुप में हिंदी के प्रयोग और रोजगार की स्थिति पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी। द्वितीय सत्र में ओंकार नाथ तिवारी ने विशेषकर पूर्वोत्तर क्षेत्र में विभिन्न कार्यालयों में हिंदी में रोजगार के अवसर, वेतनमान, योग्यताओं के बारे में स्लाईड द्वारा जानकारी दी। सत्र के दौरान छात्रों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर भी दिया गया। कैरयर काउंसिलिंग कार्यक्रम का संचालन डी.एच.एस.के. वाणिज्य महाविद्यालय के हिंदी विभाग के विभागाध्यक्ष भारती लालुं तथा हिंदी प्राध्यापिका कृष्णाली दास ने किया। बीसीपीएल द्वारा आयोजित तृतीय कैरयर काउंसिलिंग कार्यक्रम में कुल 200 विद्यार्थी, 15 प्रोफेसर तथा ऑनलाइन माध्यम से पूर्वोत्तर क्षेत्र के विभिन्न कार्यालयों से कुल 24 अधिकारी उपस्थित थे। कैरियर काउंसिलिंग कार्यक्रम में बीसीपीएल के अधीक्षक (हिंदी) रंजन कलिता ने सभी का धन्यवाद ज्ञापन किया।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल