फॉलो करें

भारत-म्यांमार सीमा जल्द ही सील की जाएगी: अमित शाह

60 Views

गुवाहाटी, । केंद्रीय गृहमंत्री ने आज घोषणा की कि भारत-म्यांमार सीमा को जल्द ही सील कर दिया जाएगा। गृहमंत्री आज असम पुलिस के 2,551 कमांडो के पहले दीक्षांत परेड में शामिल होने के दौरान समारोह को संबोधित कर रहे थे। गुवाहाटी के सरुसोजाई स्टेडियम में आयोजित समारोह में मौजूद गृहमंत्री ने असम पुलिस के साहस और बहादुरी की प्रशंसा की तथा असम पुलिस के 900 शहीदों के बलिदान को श्रद्धांजलि दी।

असम पुलिस की दीक्षांत परेड की सलामी लेने के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने संबोधन में कहा कि असम पुलिस प्रतिकूल वातावरण में भी अपने कर्तव्यों का बहुत कुशलता से पालन कर रही है। अपने भाषण की शुरुआत मां कामाख्या और महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए शाह ने कहा कि असम पुलिस दशकों से घुसपैठ, ड्रग्स, हत्या और हिंसा के माहौल से निपटकर सबसे प्रतिकूल वातावरण में अपने कर्तव्यों का पालन कर लोगों की रक्षा करने में सक्षम रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन की तुलना में अब असम और पूर्वोत्तर के साथ-साथ भारत के कई अशांत हिस्सों में शांति का माहौल लौट आया है। उन्होंने कहा कि देश 2014 और 2024 के बीच मौलिक रूप से बदल गया है। कांग्रेस के शासनकाल में जम्मू-कश्मीर, नक्सल प्रभावित इलाकों और नॉर्थ ईस्ट में हिंसा का माहौल रहा। अब इन इलाकों में हिंसा में 73 फीसदी तक की कमी आई है।

इस मौके पर गृहमंत्री ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ”भाजपा ने असम में एक लाख भर्ती प्रक्रिया पूरी कर ली है। कांग्रेस के दिनों में उन्हें पैसे देकर नौकरी करनी पड़ती थी। केंद्रीय गृहमंत्री ने असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्वा सरमा की भी तारीफ की और कहा कि जब उन्होंने मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभाला था, तो उन्होंने कहा था कि एक लाख बेरोजगार युवाओं को पूरी पारदर्शिता के साथ नौकरी दी जाएगी और आज मुख्यमंत्री ने वही किया है।

अमित शाह ने राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर भी तंज कसा। शाह ने कहा कि कांग्रेस शासन में असम में हुई हत्या, हिंसा के पीड़ितों के परिवार आज राहुल की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का कड़ा विरोध करते दिख रहे हैं। राम मंदिर में रामलला के प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर शाह ने कहा कि यह भारतवासियों के लिए गर्व का क्षण है।

इस अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री के साथ असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्व सरमा और असम पुलिस के महानिदेशक जीपी सिंह भी उपस्थित रहे। इस मौके पर प्रशिक्षित असम पुलिस कमांडो ने विभिन्न युद्ध और सैन्य रणनीति के साथ-साथ मार्शल आर्ट का प्रदर्शन किया। सरुसोजाई स्टेडियम में आयोजित समारोह को देखने स्टेडियम पहुंचे हजारों लोगों ने असम पुलिस के कमांडो का तालियों से स्वागत किया। लोगों ने तालियों की बौछार लगा दी।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल