महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता को शारीरिक उत्पीड़न करने के आरोप में हाइलाकांदी में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया

0
134
महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता को शारीरिक उत्पीड़न करने के आरोप में हाइलाकांदी में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया

शंकरी चौधुरी, हाइलाकांदी, 23 जून:

हाइलाकांदी जिले में कोबिद-19 टीकाकरण शिविर में एक महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता को शारीरिक उत्पीड़न करने के आरोप में हाइलाकांदी में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिला पुलिस अधीक्षक रमनदीप कौर ने मौखिक और शारीरिक रूप से दुर्व्यवहार करने के लिए चार लोगों को गिरफ्तार करने की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि धारा 353, 354, 294 और 427 आईपीसी, 51 (बी) आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 और असम मेडिकल सर्विस पर्सन्स एंड मेडिकेयर सर्विस एसोसिएशन (हिंसा की रोकथाम और संपत्ति की नुकसान) अधिनियम, 2011, की धारा 5 एवं 6 के तहत मामला 223/21 दर्ज किया गया है। काटलीछड़ा थाने में मामला दर्ज किया गया है। काटलीछड़ा की सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी सोनाली देब द्वारा दर्ज की गई प्राथमिकी मामले के आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया गया है। गिरफ्तार लोगों की पहचान सोहेल आहमेद, बदरूल इस्लाम, कामाल उद्दीन एवं साहारूल इस्लाम के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि ये सभी 20-22 वर्ष के आयु के हैं एवं काटलीछड़ा के धलाई-मलाई गांव पंचायत के बिलगांव इलाके के निवासी हैं। कोर्ट ने आज उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
काटलीछड़ा ब्लॉक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. सुब्रत देब ने बताया कि धलाई-मलाई एमई स्कूल में मंगलवार को परेशानी तब शुरू हुई जब करीब 200 लोग कोविड-19 का टीका लेने के लिए जमा हुए थे और उनमें से कुछ लोगों ने कथित तौर पर सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी सोनाली देब के साथ झगड़ा शुरू कर दिया, जो लाभार्थियों की जांच करने के लिए ड्यूटी पर थीं। उनमें से चार व्यक्ति
ने कथित तौर पर अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया और उसके साथ मौखिक और शारीरिक रूप से भी हमला किया। ड्यूटी पर तैनात पुलिस कांस्टेबल ने लोगों को नियंत्रित करने की कोशिश की और महिला ने अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के साथ उन्हें स्कूल के शौचालय के अंदर बंद कर दिया। काटलीछड़ा के सर्कल अधिकारी सोमा राय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुमन चक्रवर्ती, काटलीछड़ा थाने के ओसी  तनवीर अहमद सहित अधिकारियों की एक टीम मौके पर पहुंची और स्वास्थ्य कर्मियों को केंद्र से बाहर ले गई। सार्कल अधिकारी राय ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों पर हमले को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और घटना में शामिल लोगों को दंडित किया जाएगा‌। देर रात चारों आरोपियों को उनके गांव से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने कहा जांच जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here