मुख्यमंत्री से सिंगला चाय बागान की दशा पर ध्यान देने का अनुरोध

0
115
मुख्यमंत्री से सिंगला चाय बागान की दशा पर ध्यान देने का अनुरोध
हाइलाकान्दी जिला के आयनाखाल जी पी के सिंगला चाय बागान के चाय श्रमिकों के समस्याओं का समाधान अधुरा ही रहा। महत्वपूर्ण सड़क जो कि जिला के साथ जोड़ता है। आजतक निर्माण नही हुआ, आधा अधुरा काम करके बिभागीय सरकारी कर्मचारियों के सांठगांठ से मन्जुर सारा पैसा कान्ट्रेक्टर ने हड़प कर लिया। आज भी लोगों के बीमार पड़ने पर जिला अस्पतालों तक जाना , बच्चों के स्कुल तक पहुचना बाकी नित्यनैमत्यिक काम काज करने के लिये काफी मुश्किलों का सामना करना पड रहा है।
चाय बागान के लोगों के मनोरंजन के लिए नाचघर के लिए भी लोगों का निर्माण हेतु आवेदन बहुत पहले से था परन्तु आज तक सबकुछ जैसा के तैसा पड़ा हुआ है। तत्कालीन असम के मुख्यमंत्री  सर्बानन्द सानोवाल जी बिषयो के समाधान के लिए स्थानीय प्रसाशन को निर्देश देने के बावजुद भी प्रसाशन तथा स्थानीय राजनैतिक लोगों के रहस्यपुर्ण उदासीनता के चलते इस चाय बागान इलाके मे कोई परिवर्तन नही हो‌ पाया है।
पिछले 17 दिसम्बर एक इलेक्ट्रॉनिक मिडिया के साक्षात्कार मे भी स्थानीय लोगों ने बर्तमान असम सरकार के कर्मवीर यशस्वी मुख्यमंत्री हिमन्त विश्वशर्माजी का ध्यानाकर्षण करते हुए अधुरा काम को पुरा करने के लिए निवेदन किया परन्तु अभी तक स्थानीय प्रसाशन कोई कदम नही लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here