राष्ट्रहित को सर्वोच्च रखने वाला भारतीय मजदूर संघ का दो दिवसीय 35 वां त्रैवार्षिक अधिवेशन का मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा वर्चुअली शुभारंभ

0
139
राष्ट्रहित को सर्वोच्च रखने वाला भारतीय मजदूर संघ का दो दिवसीय 35 वां त्रैवार्षिक अधिवेशन का मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा वर्चुअली शुभारंभ
प्रयागराज 6 जून 2021 राष्ट्रहित उद्योगहित, मजदूर हित के मूल मंत्र को सजीव रूप से धारण करने वाला देश का प्रथम स्थान का एकमात्र संगठन भारतीय मजदूर संघ ही है। आज उक्त विचार भारतीय मजदूर संघ के 35 वें वर्चुअल अधिवेशन कानपुर में हो रहे आयोजन के उद्घाटन सत्र के प्रथम दिवस के प्रथम सत्र में उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा भारतीय मजदूर संघ की वर्चुअल मीटिंग में संबोधित करते हुए प्रस्तुत किए गए इस अवसर पर लखनऊ में भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर मुख्यमंत्री द्वारा दो दिवसीय त्रैवार्षिक अधिवेशन का विधिवत शुभारंभ करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में दो करोड़ संगठित व असंगठित श्रमिकों को राष्ट्र व उद्योग हित को साधते हुए BMS से देश के सभी मजदूरों की आशाएं लगी हुई है इसलिए प्रदेश में श्रमिकों को सामाजिक व स्वास्थ्य की सुरक्षा को प्राथमिकता प्रदान करने के उनके संकल्प को अमलीजामा पहनाने की एक बड़ी जिम्मेदारी भारतीय मजदूर संघ की है । उन्होंने इस अवसर पर समस्त कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए अधिवेशन के प्रति अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की।
अधिवेशन के सम्बंध में संघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी सुरेंद्रन ने कहा कि एक अभिनव प्रयोग के रूप में यह अधिवेशन एक मील का पत्थर साबित होगा। भारतीय मजदूर संघ ने राष्ट्रीय एवं प्रांतीय स्तर पर सर्वप्रथम सफलतापूर्वक बड़े आभासीय (वर्चुअल) अधिवेशन का सफल आयोजन किया है।
 द्वितीय दिवस के प्रथम सत्र में संबोधन के पश्चात उत्तर प्रदेश के यशस्वी श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या जी ने भारतीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भारतीय मजदूर संघ की भूरी भूरी प्रशंसा की और कहा कि भारतीय मजदूर संघ की विचारधाराएं बहुत ही सकारात्मक होती हैं । इनका एक-एक कार्यकर्ता जमीन से जुड़ा होता है और सभी मजदूर संगठन के हित के लिए कार्य करने के लिए सदैव तत्पर रहता है । मंत्रीजी ने यह भी बताया की श्रम मंत्रालय में मजदूरों की बेटियों की शादियाँ कराने में पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाता है। प्रवासीय मजदूरों को आवास, भोजन और रोजगार दिलाने में भारतीय मजदूर संघ की विशेष भूमिका रही है।
सरकार ने ऐसे मामलों में अपना पूरा सहयोग दिया है। मन्त्री जी कहा है कि भारतीय मजदूर संघ के लिए हमारे घर के दरवाजे एवं कार्यालय सदैव खुले हैं वह अपनी समस्याओं को लेकर के मुझे किसी भी समय संपर्क कर सकते हैं उसके लिए उन्हें पूरा पूरा सहयोग एवं सहायता प्रदान की जाएगी।
मंत्रीजी के संबोधन के पश्चात महिला नारी शक्तियों के सत्र की शुरूआत हुई। जिसमे प्रमुख रूपसे आशा/आशा संगिनी संगठन की अद्यक्षा ने कहा कि आशा कर्मियों के लिए माननीय मुख्यमंत्री द्वारा घोषित मानदेय में 1500 की बढोत्तरी अभीतक बहनों को प्रॉपर नही हुई। जिसको तत्काल जारी करने एवं *कोविड 19* कार्यकाल के समय कार्य करने वाली आशा कर्मियों को मृत्यपरांत 2 लाख का मुआवजा देने का अनुरोध प्रस्तवित किया गया ।
प्रथम एवं द्वितीय दिवस के अधिवेशन में प्रमुख रूप से प्रदेश अध्यक्ष राधे कृष्ण जी उपाध्यक्ष प्रबल प्रताप सिंह जी प्रदेश संगठन मंत्री अनुपम जी, राष्ट्रीय मंत्री अशोक शुक्ला जी, प्रदेश महामंत्री श्रीकांत अवस्थीजी ,श्रीमती आशा सक्सेना जी, मंत्री राजेंद्र घड़ियाल जी कोषाध्यक्ष शिव भूषण सलिल जी, *प्रयागराज विभाग प्रमुख राधेश्याम पांडे जी विभाग प्रमुख सुरेश चंद्र फुलोरिया जी*, राजकीय मुद्रणालय से महामन्त्री रविकांत जी, अध्यक्ष महेश नारायण त्रिपाठी जी, कोषाध्यक्ष विजय कुमार पांडे जी, पूर्व जिला अध्यक्ष स्वराज सिंह जी, *भा.म.स. प्रयागराज जिला मीडिया प्रभारी जगदंबा प्रसाद विश्वकर्मा जी*, मनोज जौहरी जी, श्याम सिंह, श्रीमती आकांक्षा सक्सेना, राष्ट्रीय प्रभारी विद्युत अख्तर हुसैन,वीरेंद्र जैसवाल, सुरेंद्र पाल प्रजापति, श्रीमती नीलिमा चिमोटे, गंगा गुप्ता, विनीता जी, विजेंद्र विश्वकर्मा जी सुरेंद्रन जी एवं प्रदेश भर से लगभग 1200 प्रतिनिधि सम्मिलित हुएl अधिवेशन की अध्यक्षता राधे कृष्ण तिवारी प्रदेश अध्यक्ष द्वारा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here