रेलवे स्टेशन से भागे सैकड़ों प्रवासी मजदूरों से 151 पकड़े गये

0
235
रेलवे स्टेशन से भागे सैकड़ों प्रवासी मजदूरों से 151 पकड़े गये

मोरीगांव (असम), 24 मई (हि.स.)। मोरीगांव जिला के जागीरोड रेलवे स्टेशन पर रविवार को कोरोना की बिना जांच कराए रेलवे स्टेशन से भाग निकले 151 लोगों को पुलिस ने सोमवार को हिरासत में लिया है। मोरीगांव जिला के पुलिस अधीक्षक ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन के दौरान बताया कि रविवार की सुबह केरल से जगीरोड रेलवे स्टेशन पर 05905 कन्याकुमारी-डिब्रूगढ़ विवेक एक्सप्रेस से लगभग 346 प्रवासी मजदूर पहुंचे थे।  जिसमें से 133 को जागीरोड और बाकी को लमडिंग और होजाई स्टेशन पर उतरना था। रेलवे स्टेशन पर कम सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी का फायदा उठाते हुए प्रवासी मजदूर कोरोना की जांच कराए बिना रेलवे स्टेशन से भाग निकले थे।

जानकारी के अनुसार कन्याकुमारी-डिब्रूगढ़ विवेक एक्सप्रेस से पहुंचे सभी प्रवासी मजदूरों की कोविड जांच करने की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही की गई थी लेकिन भीड़ अचानक बढ़ गयी, जिसका फायदा उठाते हुए ज्यादातर प्रवासी
मजदूर अपनी कोरोना की जांच कराएं बिना ही रेलवे स्टेशन से भाग निकले। रेलवे स्टेशन से निकले लोगों में से ज्यादातर लोग मोरीगांव और नगांव जिला के रहने वाले बताए गए हैं। घटना की खबर मिलते ही जिला की पुलिस पूरी तत्परता से रेलवे स्टेशन से भागे मजदूरों को पकड़ने के लिए अभियान चला रही है।

मोरीगांव जिला के पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में मोरीगांव जिले के विभिन्न हिस्सों में अभियान चलाकर 130 लोगों को पकड़ा गया है। वहीं नगांव जिला के पुलिस अधीक्षक आनंद मिश्रा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि 21 लोगों की पहचान करने के बाद सभी को पकड़कर मोरीगांव पुलिस को सौंप दिया गया है।

वहीं फरार अन्य लोगों की धरपकड़ के लिए पुलिस लगातार अभियान चला रही है। पुलिस ने बताया कि पकड़े गए 151 लोगों की कोरोना जांच गई है जिसमें 9 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। घटना के संबंध में जागी रोड थाने में केस नंबर 315/2021 धारा 143/188/267/270/353/336/ आरडब्लू 51 बी डीएम एक्ट के
तहत प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। पुलिस का कहना है कि रेलवे स्टेशन पर कोरोना की जांच कराए बिना भागे सभी प्रवासी मजदूरों की शिनाख्त कर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here