फॉलो करें

लोकसभा की छह सीटों पर निर्दलीय आगे

28 Views

नई दिल्ली, 4 जून । लोकसभा चुनावों के लिए मतगणना जारी है और अब रुझान परिणाम में बदलने लगे हैं। जहां भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिलता दिख रहा है वहीं कांग्रेस नेतृत्व वाली इंडी अलायंस मजबूत विपक्ष बनकर उभरा है। इस बीच महाराष्ट्र की सांगली, पंजाब की खडूर साहिब और फरीदकोट, दमन और दीव, जम्मू और कश्मीर की बारामूला और लद्दाख सहित कुल छह सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार बढ़त बनाये हुए हैं।

पंजाब की दो लोकसभा सीटों के नतीजे सबको चौंका रहे हैं। फरीदकोट से इंदिरा गांधी के हत्यारे बेअंत सिंह के बेटे सरबजीत सिंह आगे हैं। वहीं खडूर साहिब लोकसभा से खालिस्तान समर्थक अमृतपाल आगे है।

फरीदकोट सीट की बात करें तो यहां सरबजीत सिंह खालसा अभी 70,246 वोटों से आगे है। चुनाव आयोग के अनुसार, उन्हें शाम 4 बजे तक 2,96,922 वोट मिले हैं। वहीं आम आदमी पार्टी के करमजीत सिंह अनमोल को 226676 वोट मिले हैं। कांग्रेस की उम्मीदवार अमरजीत कौर तीसरे स्थान पर हैं। शिरोमणि अकाली दल के राजविंदर सिंह धर्मकोट चौथे और भाजपा के हंसराज हंस पांचवें स्थान पर हैं।

असम की जेल में बंद खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह पंजाब के खडूर साहिब लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं और अब तक 3 लाख 62 हजार से अधिक वोट पाकर सबसे आगे है। चुनाव आयोग के शाम 4 बजे के आंकड़ों के अनुसार, निर्दलीय उम्मीदवार अमृतपाल सिंह कांग्रेस के कुलबीर सिंह जीरा से 1 लाख 68 हजार से अधिक मतों से आगे चल रहे हैं। इसके बाद आम आदमी पार्टी के लालजीत सिंह भुल्लर और भाजपा के मनजीत सिंह मन्ना क्रमश: तीसरे और चौथे स्थान पर हैं। उल्लेखनीय है कि 2019 के चुनाव में खडूर साहिब सीट पर कांग्रेस के जसबीर सिंह गिल ने जीत दर्ज की थी।

महारष्ट्र की सांगली लोकसभा सीट पर अब तक के रुझानों में निर्दलीय उम्मीदवार और कांग्रेस के बागी विशाल (दादा) प्रकाशबापू पाटिल पांच लाख 69 हजार से अधिक वोट पाकर सबसे आगे चल रहे हैं। पाटिल ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने का फैसला किया, क्योंकि महाराष्ट्र में कांग्रेस का पारंपरिक गढ़ रही यह सीट इंडिया ब्लॉक के सीट-शेयरिंग समझौते के तहत शिवसेना (यूबीटी) को आवंटित कर दी गई थी। कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री वसंतदादा पाटिल के पोते विशाल पाटिल फिलहाल त्रिकोणीय मुकाबले में भाजपा के संजय पाटिल और शिवसेना (उद्धव ठाकरे) के चंद्रहार पाटिल से आगे हैं। चुनाव आयोग के शाम 4 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार, विशाल पाटिल एक लाख 304 वोट से भाजपा के संजय पाटिल से आगे हैं। शिव सेना (उद्धव ठाकरे) के चंद्रहार पाटिल तीसरे स्थान पर हैं।

नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) के उपाध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने उत्तर कश्मीर के बारामुला लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार शेख अब्दुल राशिद (इंजीनियर राशिद) से हार स्वीकार कर ली। चुनाव आयोग के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार राशिद 4,57,298 मत पाकर सबसे आगे चल रहे हैं, जबकि अब्दुल्ला 2,56,239 मतों से पीछे चल रहे हैं। जम्मू-कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के उम्मीदवार सज्जाद लोन 1,62,908 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

लद्दाख में मतगणना जारी है, जहां त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है। शाम 4 बजे तक निर्दलीय उम्मीदवार मोहम्मद हनीफा को 64,443 से ज़्यादा वोट मिले हैं, दूसरे नंबर पर कांग्रेस के त्सेरिंग नामग्याल और तीसरे स्थान पर भाजपा के ताशी ग्यालसन हैं।

दमन और दीव लोकसभा सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार पटेल उमेशभाई बाबूभाई 44 हजार 523 वोट पाकर पहले स्थान पर हैं। भाजपा के लालू भाई पटेल दूसरे और कांग्रेस के केतन दह्याभाई पटेल तीसरे स्थान पर हैं।

यदि किसी भी एक दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलता है तो सरकार बनाने में इन निर्दलीय सांसदों की भूमिका महत्व की हो जाती है।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल