विश्व खेल पत्रकार दिवस पर बराक वार्ता ने 13 पत्रकारों किया सम्मानित, बराकवार्ता का रजत जयन्ती वर्ष आरंभ

0
126
विश्व खेल पत्रकार दिवस पर बराक वार्ता ने 13 पत्रकारों किया सम्मानित, बराकवार्ता का रजत जयन्ती वर्ष आरंभ
सिलचर, 3 जुलाई। सिलचर में एकमात्र हिंदी इलेक्ट्रॉनिक समाचार नेटवर्क बराक वार्ता ने विश्व खेल पत्रकार दिवस पर अपना रजत जयंती वर्ष मनाना शुरू किया।  स्थानीय ईलोरा हेरिटेज हॉल में शुक्रवार को आयोजित एक समारोह में बराक घाटी के तीनो जिलों के 13 खेल पत्रकारों का सम्मानित किया। बराक वार्ता ने 1996 में अपनी यात्रा शुरू की थी। अभी भी बराकघाटी के समाचार जगत में अभी भी उनकी लड़ाई जारी है। समारोह में बराकवार्ता के प्रबंध निदेशक श्री संजीव सिंह ने संक्षेप में बराकवार्ता के यात्रा के बारे जानकारी प्रदान किया। बाद में, बराक वैली स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट एसोसिएशन के दो वरिष्ठ सदस्य हिब्रत भट्टाचार्य और ताज उद्दीन चयनित मुद्दों पर चर्चा की । अपने सम्बोधन में  हेब्रत भट्टाचार्य ने कहा कि कोविड-19 की स्थिति में खेल पत्रकारों का कार्य अधिक चुनौती पूर्ण हो गया है। इसके अलावा इनडोर-आउटडोर खेल भी ऑनलाइन खेले जा रहे हैं।
समय के साथ-साथ खेल पत्रकारों के काम का तरीका भी बदल रहा है। स्थिति के अनुकूल होना और पाठकों और दर्शकों तक पहुंचना बहुत मुश्किल है।  ताज उद्दीन ने खेल के विकास में ग्रामीण पत्रकारों की भूमिका पर चर्चा करते हुए कहा कि ज्यादातर खिलाड़ी गांव के छोटे छोटे टूर्नामेंटों से ही ऊभर के आते हैं। और सबसे पहले ग्रामीण पत्रकार ही ऊभरते हुए खिलाड़ियों को प्रचार प्रसार में लाते हैं । इस अवसर पर  सिलचर डीएसए के अध्यक्ष बाबुल होड़ , सचिव बिजेंद्र प्रसाद सिंह, संयुक्त सचिव अरिजीत गुप्ता, खोंज सचिव सजल लश्कर और बराक वैली स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष रिटेन भट्टाचार्य ने अपने संबोधन में बराक बार्ता के कार्य सराहना की।
खेल पत्रकार सायन बिस्वास ने कहा कि बराक वार्ता ने जिस तरह से 25 साल तक खबरों की दुनिया में टिका रहा इसके लिए सिंह परिवार को सलाम करना होगा।  अतिथियों व आयोजकों ने खेल पत्रकारों को सम्मानित किया। प्राप्तकर्ताओं में अनिर्बान र्ज्योति गुप्ता, समुद्र शिहर विश्वास, इकबाल बहार लश्कर, इंद्रजीत सिन्हा, बिश्वनाथ हाजाम, किंकर दास, शुभेंदु दास, जाकिर हुसैन चौधरी, बेद ब्रत बनर्जी, शुभब्रत दास, सुकांत शर्मा, अभिजीत पाल का नाम शामिल हैं।  पूर्व खिलाड़ी समसुल हक बरभुइयां को उसी दिन मरणोपरान्त क्रिड़ारत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया, इकबाल बहार लश्कर ने इस सम्मान को ग्रहण  किया। इसके अलावा सायन बिस्वास को पिछले साल बराक वार्ता के तरफ से नाट्यरत्न पुरस्कार मिला था उसे इसवर्ष प्रदान किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here