शिलचर में हिंदीभाषी संगठनों द्वारा धूमधाम से मनाया गया हिंदी पखवाड़ा

आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित

0
211

पुरस्कार वितरण और सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन

आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित

आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित
आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित

शिलचर 24 सितंबर: 10 सितंबर 2022 से 24 सितंबर 2022 तक शिलचर में विविन हिंदी भाषी संगठनों द्वारा हिंदी पखवाड़ा का भव्य आयोजन किया गया। 24 सितंबर को डॉक्टर बैकुंठ ग्वाला की अध्यक्षता में मुख्य समारोह का भव्य आयोजन दुर्गा मंडप घुंघुर में किया गया। विभिन्न वक्ताओं ने राजभाषा और राष्ट्रभाषा हिंदी का दैनिक जीवन में उपयोग करने पर महत्व दिया और कहा कि देश को जोड़ने वाली भाषा है हिंदी, हिंदी की भारतीय भाषाओं के साथ कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है, भारतीय भाषाओं की सहोदर है हिंदी। हिंदी की समृद्धि से ही भारतीय भाषाओं की समृद्धि होगी। वक्ताओं में असम चाय निगम के चेयरमैन राजदीप ग्वाला, जिला परिषद के चेयरमैन अमिताभ राय, चाय उद्योग के सुप्रतिष्ठित व्यक्तित्व कमलेश सिंह, विशिष्ट उद्योगपति और समाजसेवी महावीर जैन, वरिष्ठ समाजसेवी अवधेश कुमार सिंह, पंजाब नेशनल बैंक के प्रबंधक पुरुषोत्तम कुमार आदि ने अपने विचार व्यक्त किए।

आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित

मुख्य समारोह के शुभारंभ से पूर्व आयोजन समिति के पदाधिकारी और समारोह में उपस्थित सभी लोगों ने शहीद मंगल पांडेय चौक पर जाकर शहीद मंगल पांडेय की प्रतिमा के सामने पुष्प अर्पण किया और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।
मंचासीन अतिथियों ने दीप प्रज्वलन करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। अतिथियों को दुपट्टा और बैज पहनाकर स्वागत किया गया। मंचासीन अतिथियों में आचार्य आनंद शास्त्री, प्रतिष्ठित समाजसेवी और चिकित्सक डॉ रंजन सिंह, लक्ष्मी निवास कलवार, असम विश्वविद्यालय के हिंदी अधिकारी सुरेंद्र उपाध्याय, प्रतिष्ठित समाजसेवी श्रीमती सुंदरी पटवा, जिला परिषद सदस्य मानव सिंह, चार्टर्ड अकाउंटेंट जयराज कोइरी आदि शामिल थे। आयोजन समिति के महासचिव दिलीप कुमार ने अपने स्वागत वक्तव्य में हिंदी समारोह के इतिहास और राजभाषा अधिनियम सहित हिंदी से जुड़े विभिन्न विषयों पर अपने विचार प्रस्तुत किए।

आचार्य आनंद शास्त्री श्रीमती सुंदरी पटवा सुश्री आयुषी कलवार जयराज कोइरी और श्यामसुंदर रविदास को किया गया सम्मानित

शिलचर में धूमधाम से मनाया गया हिंदी पखवाड़ा
शिलचर में धूमधाम से मनाया गया हिंदी पखवाड़ा

आयोजन समिति की ओर से प्रकांड विद्वान और ज्योतिषाचार्य पंडित आनंद शास्त्री, सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती सुंदरी पटवा, बराक घाटी से आईएएस चुनी गई सुश्री आयुषी कलवार, युवा चार्टर्ड अकाउंटेंट जयराज कोईरी तथा हाइलाकांदी के युवा सामाजिक कार्यकर्ता श्यामसुंदर रविदास को मानपत्र और दुशाला देकर सम्मानित किया गया। स्थानीय वरिष्ठ नागरिक और विशिष्ट व्यक्तियों को भी दुपट्टे से सम्मानित किया गया जिनमें मुख्य रुप से कंचन नुनिया, विजय नुनिया, प्रदीप कुर्मी, मनोज जायसवाल व श्रीमती उमा नोनिया आदि शामिल थे।


कार्यक्रम में उपस्थित आयोजन समिति के पदाधिकारी और प्रमुख कार्यकर्ताओं में राम सिंहासन चौहान, रामनारायण नुनिया, गणेश लाल छत्री, चंद्रमा प्रसाद कोइरी, डॉ रीता सिंह यादव, श्रीमती सीमा कुमार, पृथ्वीराज ग्वाला, श्यामाप्रसाद कानू, जवाहरलाल पांडेय, शिवकुमार, कल्याण हजाम, रितेश नुनिया, रामनाथ नुनिया, श्यामू यादव, चंद्रजीत नुनिया, शिव शंकर नुनिया, महादेव नुनिया वह श्रीमती उमा नुनिया (सीनियर) आदि उपस्थित थे।


कविता आवृत्ति प्रतियोगिता, सुलेख प्रतियोगिता, श्रुतलेख प्रतियोगिता और चित्रांकन प्रतियोगिता के प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त 27 प्रतियोगियों को प्रमाण पत्र और प्रतीक चिन्ह देकर पुरस्कार वितरित किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले कलाकारों को मेडल और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम के वादको को आयोजन समिति के उपाध्यक्ष रामनारायण नुनिया ने दुपट्टा से सम्मानित किया। समारोह में पूरे समय सभाकक्ष खचाखच भरा हुआ था। पूरे कार्यक्रम के दौरान लोगों के उत्साह का अंदाजा उनकी तालियों और जयकारे से लगाया जा सकता था। मुख्य समारोह का संचालन जवाहरलाल पांडेय, कल्याण हजाम और शिव कुमार ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here