हाफलांग में राम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान की कार्यकर्ता बैठक आयोजित

0
572
हाफलांग में राम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान की कार्यकर्ता बैठक आयोजित

आज हाफलांग के नामसॉन्ग भवन में राम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान समिति के प्रमुख कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित करते हुए परिषद के क्षेत्र संगठन मंत्री दिनेश तिवारी ने कहा कि अब तक हिंदू समाज ने अपने तन की शक्ति, मन की शक्ति का प्रदर्शन कर दिया है, अब धन की शक्ति का प्रदर्शन करना है। राम जन्मभूमि आंदोलन में तन की शक्ति का प्रदर्शन करके बाबरी ढांचे को धुलिसात कर दिया। राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए फैसला आने पर एक मन होकर पूरे देश ने मन की शक्ति का प्रदर्शन किया। निर्णय आने से पहले लोगों को लगता था कि क्या हो जाएगा किंतु पूरे देश ने शांति के साथ उच्चतम न्यायालय के निर्णय का स्वागत किया। श्री राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। यह ऐतिहासिक काम है, मान-सम्मान और स्वाभिमान का प्रतीक है।

दान भारतीय समाज की पुरातन विशेषता रही है, इसे सामाजिक कर्तव्य भी माना गया है। संगठन ने विचार किया कि पूरे समाज के सहयोग से मंदिर का निर्माण किया जाएगा। इसलिए 15 जनवरी 2021 से लेकर अगले 30 जनवरी 2021तक पूरे देश भर में निधि समर्पण अभियान चलाया जाएगा। इसमें ज्यादा से ज्यादा सहयोग करके और आने वाली पीढ़ी को प्रेरित करना है कि वह अभी इस मंदिर निर्माण को याद रखें। समिति के कार्यकर्ता जिले के प्रत्येक गांव में, घर-घर में जाएंगे। ऐसा भव्य मंदिर बनेगा जो 1500- 2000 वर्षों तक सुरक्षित खड़ा रहेगा। 2.7 एकड़ क्षेत्रफल में, 57400 वर्ग फुट निर्माण कार्य होगा। 360 फुट लंबा, 235 फुट चौड़ा और 161 फुट ऊंचाई वाला भव्य मंदिर निर्माण होने जा रहा है। तीन मंजिला मंदिर में कुल 5 मंडप होंगे, 1 मंजिल की ऊंचाई 20 फुट आएगी। 5 अगस्त 2020 को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन राव भागवत जी की उपस्थिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमि पूजन करके मंदिर निर्माण का शुभारंभ कर दिया। इस शुभ मुहूर्त में 3000 से अधिक नदियों का जल और तीर्थों की मिट्टी लाकर पूरे देश के विभिन्न जाति, जनजाति और बलिदानी कारसेवकों को आध्यात्मिक रूप से भूमि पूजन में उपस्थित कर दिया था।

बैठक के प्रारंभ में विश्व हिंदू परिषद के प्रांत संगठन मंत्री पूर्ण चंद्र मंडल ने लोगों को स्मरण दिलाया कि राम जन्म भूमि के लिए अब तक 76 संग्राम हुए, जिसमें लाखों हिंदुओं ने बलिदान किया। आज उनका सपना साकार होने जा रहा है। इसके लिए लंबा आंदोलन चलाया गया समाज की शक्ति से आंदोलन सफल हुआ। बैठक में विश्व हिंदू परिषद के प्रदेश सभापति अधिवक्ता शांतनु नायक तथा विभाग संघचालक रामकुई जेमी मंचासीन थे। बैठक का संचालन परिषद के सचिव मुनिंद्र कुमार दास ने किया। अन्य उपस्थित प्रमुख व्यक्तियों में प्रांत प्रचारक प्रमुख राम सिंह जी, विभाग प्रचारक राजु मल्लिक, प्रमुख कार्यकर्ता हरेराम, सोमेन लांगमलाई, राहुल पारीक, निधुबन पाल, लल्लन शर्मा तथा डन फाइनन थाउसेन आदि शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here