फॉलो करें

BJP अगले 10 वर्ष में भी ओडिशा के लोगों का विश्वास नहीं जीत सकती: सीएम नवीन पटनायक

25 Views

भुवनेश्वर. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बीजू जनता दल (बीजद) सरकार के जाने की उलटी गिनती शुरू होने संबंधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणी का जोरदार खंडन करते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अगले 10 वर्ष में भी राज्य के लोगों का विश्वास नहीं जीत सकती.

मोदी ने शनिवार को कंधमाल, बोलांगीर और बारगढ़ में अपनी चुनावी सभाओं के दौरान पटनायक पर तीखा हमला किया और उन पर राज्य सरकार में ऐसे व्यक्ति को आउटसोर्स करने का आरोप लगाया, जिसे ओडिया संस्कृति का कोई ज्ञान नहीं है. उन्होंने यह भी दावा किया कि ओडिशा में उडिय़ा संस्कृति और गौरव खतरे में है तथा राज्य अपने समृद्ध प्राकृतिक और खनिज संसाधनों के बावजूद पटनायक के 25 साल के शासन के दौरान विकास में पिछड़ रहा है. प्रधानमंत्री ने इन जनसभाओं में घोषणा की कि पटनायक सरकार के जाने की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है. उन्होंने लोगों को 10 जून को भुवनेश्वर में भाजपा मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया.

इसके बाद, पटनायक ने एक वीडियो संदेश में मोदी की आलोचना करते हुए कहा कि भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद और लोगों के प्यार से, बीजद लगातार छठी बार राज्य में सरकार बनायेगी. उन्होंने कहा कि भाजपा इस बार तो क्या, अगले 10 वर्ष तक राज्य के लोगों का दिल और विश्वास नहीं जीत सकती. पटनायक को अपने 24 साल के शासन में मोदी के बारे में इतनी आक्रामक और कठोर टिप्पणी करते कभी नहीं देखा गया है. बीजद की ओर से एक और कदम आगे बढ़ाते हुए पार्टी के स्टार प्रचारक एवं नौकरशाह से नेता बने वी.के. पांडियन ने घोषणा की है कि श्री पटनायक रिकॉर्ड छठी बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. राज्य की राजनीति में मुख्यमंत्री के बाद सबसे शक्तिशाली माने जाने वाले पांडियन ने कहा कि नौ जून को भुवनेश्वर में शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया जायेगा.

मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि ओडिशा के लोग पिछले 24 वर्षों से उनके साथ हैं, जबकि प्रधानमंत्री सहित भाजपा के केंद्रीय नेता उन्हें केवल चुनाव के दौरान याद करते हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री से पूछा, क्या आपको 2014 और 2019 के चुनावों के दौरान किये गये वादे याद है? मुख्यमंत्री ने ओडिशा के लोगों को प्रधानमंत्री की ओर से किये गये वादे याद रखने के लिए कहा, जिनमें किसानों के लिए धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य दोगुना करना, तटीय राजमार्ग का निर्माण करना, महंगाई कम करना, दो करोड़ नौकरियां पैदा करना, एलपीजी, पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम करना, जीएसटी माफ करना और राज्य में मोबाइल कनेक्टिविटी में सुधार करना शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि केवल चुनाव के दौरान राज्य का दौरा करने और याद करने से लोगों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. पटनायक ने कहा, भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद तथा लोगों के प्यार और स्नेह से बीजद लगातार छठी बार राज्य में सरकार बनाएगी.मुख्यमंत्री ने इस बात पर अफसोस जताया कि राज्य सरकार के कई ज्ञापनों के बावजूद केंद्र सरकार ने पिछले 10 वर्ष में कोयले की रॉयल्टी नहीं बढ़ायी है. उन्होंने कहा, आपने संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए 1000 करोड़ रुपये मंजूर किये थे, लेकिन उडिय़ा भाषा के लिए फंड जारी करने की जहमत नहीं उठायी. इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने उल्लेख किया कि उन्होंने दो बार केंद्र से ओडिसी संगीत को शास्त्रीय दर्जा देने का अनुरोध किया था, लेकिन इसे अस्वीकार कर दिया गया. श्री पटनायक ने निराशा व्यक्त की कि राज्य के कई बहादुर बेटों के बावजूद, प्रधानमंत्री ने उनमें से किसी को भी भारत रत्न से सम्मानित नहीं किया है, यहां तक ??कि वह श्री बीजू पटनायक को भी यह सम्मान देना भूल गये हैं.

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल