फॉलो करें

अब शांति और विकास की धरती बन गई है कोकराझाड़: जेपी नड्डा

17 Views

कोकराझाड़ (असम), 18 अप्रैल । भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि कांग्रेस के शासनकाल में जो कोकराझाड़ आंदोलन की धरती बन गया था, वह आज शांति की धरती बन गया है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने काम किया है।

जेपी नड्डा गुरुवार को कोकराझाड़ में एनडीए समर्थित यूपीपीएल के उम्मीदवार जयंत बसुमतारी के समर्थन में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोकराझाड़ में बम धमाका, सड़क जाम, बंद, हड़ताल आदि की खबरें होती थीं। उस समय कोकराझाड़ की पहचान आंदोलन के धरती की तरह बन गई थी लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा के प्रयासों से यह शांति और विकास की धरती बन गई है। उन्होंने कहा कि फैसले लेने में माहिर प्रधानमंत्री मोदी तथा उसे अमल करने में एक्सपर्ट अमित शाह ने मुख्यमंत्री डॉ सरमा और यूपीपीएल के प्रमुख प्रमोद बोड़ो के सहयोग से यहां शांति की स्थापना हुई। जनवरी 2020 में बोड़ो शांति समझौता के जरिए इस सदी का एक ऐतिहासिक समझौता किया गया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में भाई को भाई से लड़ा कर भ्रष्टाचार का खेल खेला जा रहा था। आपस में खूनी संघर्ष हुआ करते थे लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने सबका साथ, सबका विकास के मंत्र से सारे भ्रष्टाचार के खेल को खत्म कर दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के प्रयासों से पूर्वोत्तर में उग्रवाद का एक प्रकार से सफाया हो गया है। उग्रवादी संगठन के सदस्य मुख्य धारा में शामिल कर दिए गए और पूरे क्षेत्र के विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने इसे अष्टलक्ष्मी कहा। साथ ही उन्होंने इसके आठ आधार शांति, स्पोर्ट्स, हाइड्रो पावर जेनरेशन, 5जी कनेक्टिविटी, ऑर्गेनिक फार्मिंग, कल्चरल प्रोटेक्शन तथा टेरिटोरियल प्रोटेक्शन आदि को बताया। उन्होंने कहा कि 1500 करोड़ रुपये बोड़ो एकॉर्ड के तहत खर्च करके स्थाई शांति बोड़ोलैंड में बहाल की गई।

उन्होंने कहा कि आज पूर्वोत्तर के 90 फ़ीसदी इलाके से आर्म्ड फोर्स स्पेशल पावर एक्ट (आफ्सपा) हटाया जा चुका है। 5 लाख करोड़ रुपए पूर्वोत्तर के विकास पर पिछले 5 साल में खर्च किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने लुक ईस्ट के साथ-साथ एक्ट ईस्ट, एक्ट फर्स्ट तथा एक्ट फास्ट की पॉलिसी अपनायी। यही वजह है कि पिछले 9 साल में पूर्वोत्तर में 6 हजार किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग 3 लाख करोड़ रुपए की लागत से बनाए गए। 6 हजार गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ा गया। असम में रेलवे का विस्तार चार गुणा कर दिया गया। पिछले 5 साल में आठ एयरपोर्ट बनाए गए। इनमें से तीन एयरपोर्ट असम में बनाए गए। नॉर्थ ईस्ट ट्रांसफार्मेशन एंड इंडस्ट्रियलाईजेशन स्कीम के तहत 10 हजार करोड़ रुपये खर्च किए गए।

जेपी नड्डा ने कहा कि 10 साल पहले भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया में दसवें स्थान पर थी, आज पांचवे स्थान पर आ चुकी है। उन्होंने कहा कि अगले 5 साल में भारत की अर्थव्यवस्था तीसरे नंबर पर चली जाएगी। उन्होंने कहा कि भारत को श्रेष्ठ भारत बनाने के लिए नरेन्द्र मोदी दिन-रात प्रयास कर रहे हैं। इसलिए एनडीए समर्थित उम्मीदवारों को विजयी बनाकर नरेन्द्र मोदी के अभियान को आगे बढ़ाएं।

एनडीए के उम्मीदवारों की रैली में नड्डा के साथ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भबेश कलिता, बीटीसी प्रमुख प्रमोद बोड़ो समेत पार्टी के उम्मीदवार तथा बड़ी संख्या में पार्टी के नेता, विधायक व मंत्री आदि मौजूद रहे।

गुरुवार को जेपी नड्डा ने असम में दो कार्यक्रमों को संबोधित किया। जेपी नड्डा गुरुवार सुबह 11 बजे धुबड़ी के रूपही हवाई अड्डे पर उतरे। वहां से 11:30 बजे वे कोकराझाड़ पहुंचे और रोड शो करते हुए रैली स्थल तक पहुंचे। कोकराझाड़ में कार्यक्रम समाप्त होने के बाद नड्डा वहां से दरंग-उदालगुड़ी लोकसभा क्षेत्र के रौता पहुंचे। रौता में भी उन्होंने एक चुनावी रैली को संबोधित किया।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल