फॉलो करें

एमपी: राहुल गांधी की यात्रा रोकने के खिलाफ प्रदर्शन, नेता प्रतिपक्ष बोले अब गांधी की जगह सुभाष चंद्र बोस बनना पड़ेगा

61 Views

भोपाल. असम में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा  रोकने के खिलाफ कांग्रेस ने देशभर में प्रदर्शन शुरु कर दिए है. आज राजधानी भोपाल में कांग्रेस नेताओं ने मौन धरना दिया. धरना-प्रदर्शन में पूर्व सीएम दिग्विजयसिंह, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी व नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार सहित अन्य नेता व कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद रहे. नेता प्रतिपक्ष श्री सिंघार ने कहा कि अब गांधी की जगह सुभाष चंद्र बोस बनना पड़ेगा.

बताया जाता है कि राहुल गांधी की न्याय यात्रा  आज गुवाहाटी पहुंची तो असम पुलिस ने उन्हें रोक दिया. राहुल अपने काफिले के साथ गुवाहाटी शहर में जाना चाहते थे लेकिन प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी.  राहुल गांधी की न्याय यात्रा रोकने जाने पर नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कहा कि जिस तरह से देश में माहौल चल रहा है वह लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश है. युवाओं, अर्थव्यवस्थाए महंगाई की बात नहीं हो रही है. आज जिस तरह से राहुल गांधी की यात्रा को रोका गया. आज सुभाष चंद्र बोस की आज जयंती है और मैं कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहना चाहता हूं कि आज गांधी की जगह सुभाष चंद्र बोस बनना पड़ेगा क्योंकि इस देश और लोकतंत्र को बचाना है. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा मेरा बस एक ही ऐतराज है कि 22 जनवरी को नरेंद्र मोदी ने जिन सभी लोगों को अयोध्या आमंत्रित किया था वो वहां उपस्थित हो गए. जिनको आमंत्रित नहीं किया था उनसे कहा था कि आप जहां हैं वहां मंदिर में जाइए.राहुल गांधी ने मंदिर में जाने के लिए पहल की लेकिन उन्हें क्यों रोक दिया गया.  इसका उत्तर ना भाजपा के पास है. ना भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री के पास है और ना प्रधानमंत्री के पास है. उन्होने आगे कहा कि राम राज्य की यह लोग बात करते हैं क्या यही राम राज्य है. हम अकेले मंदिर में जाएंगे और किसी को नहीं जाने देंगे. इसी अन्याय के खिलाफ कांग्रेस पार्टी भारत जोड़ो यात्रा चल रही है. दिग्विजय सिंह ने कहा कि अयोध्या जाने का आमंत्रण राहुल गांधी को नहीं मिला था. गौरतलब है कि राहुल गांधी की न्याय यात्रा आज गुवाहाटी पहुंची जिसे असम पुलिस ने रोक दिया. राहुल अपने काफिले के साथ गुवाहाटी शहर के बीच से गुजरना चाहते थे लेकिन प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी. पुलिस ने गुवाहाटी सिटी जाने वाली सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी. इसके बाद कांग्रेस समर्थक पुलिस से भिड़ गए. उन्होंने बैरिकेडिंग तोड़ दी.

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार बोले जर्मनी से एक नया हिटलर आ गया-

श्री सिंघार ने कहा कि न्याय यात्रा आम आदमी के अधिकार की यात्रा है. यह राहुल गांधी की अपनी यात्रा नहीं है. आम लोग यात्रा से जुड़े हैं मुझे लगता है कि जर्मनी से एक नया हिटलर यहां आ गया और हिटलर शाही चालू हो गई. 2024 के बाद ऐसा ना हो के देश में चुनाव ही ना हो. उन्होंने कहा कि ईवीएम बंद होगी तो देश का लोकतंत्र सुरक्षित रहेगा.

जीतू पटवारी ने कहा भाजपा लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है-

पीसीसी चीफ जीतू पटवारी ने कहा कि भाजपा आने वाले समय में लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है. डॉ भीमराव अंबेडकर ने संविधान में मत देने का अधिकार दिया है. भाजपा इस विचार और भावना को आत्मसात नहीं करती है. उनके जितने भी संगठन है उनमें लोकतंत्र की व्यवस्था नहीं होती है. हम असम में हुई अभद्रता की निंदा करते हैं. आशा करते हैं कि भाजपा लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करेंए उनका सम्मान करें.

राहुल गांधी को मंदिर जाने से रोका-

गौरतलब है किसोमवार को राहुल गांधी असम के नगांव पहुंचे. वे यहां बोर्दोवा थान में संत श्री शंकरदेव की जन्मस्थली पर दर्शन करने गए लेकिन उन्हें एंट्री नहीं दी गई. सुरक्षाबलों ने राहुल और अन्य कांग्रेस नेताओं को हैबरगांव में रोक दिया. यहां सुरक्षाबलों से बहस के बाद राहुल और अन्य कांग्रेसी नेता धरने पर बैठ गए. सभी को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के बाद 3 बजे मंदिर आने के लिए कहा गया था.

राहुल गांधी ने कहा क्या पीएम तय करेंगे कौन मंदिर जाएगा-

धरने के दौरान राहुल ने कहा मैंने कौन सा अपराध किया है कि मैं मंदिर नहीं जा सकता, क्या पीएम मोदी तय करेंगे कि मंदिर कौन जाएगा. आज क्या सिर्फ एक ही व्यक्ति मंदिर जा सकता है. मैं शंकरदेव की विचारधारा में विश्वास रखता हूं. वे हमारे गुरु की तरह हैं इसलिए मैंने सोचा था कि जब भी असम आऊंगा उनका आशीर्वाद जरूर लूंगा.

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल