ऐसा जादू डारा रिंकिया के पापा ने, लोग बोले, “बटन तो कमल छपवे पर दबाइब जा “

अपर असम में बीजेपी के स्टार प्रचारक आने से हिंदीभाषी वर्गो में उत्सव व उत्साह का माहौल

0
478

तिनसुकिया से हमारे ब्यूरो प्रमुख मनोज कुमार ओझा

तिनसुकिया, 17 मार्च : बैकग्राउंड में बज रहे लोकप्रिय भोजपुरी गीत, बीच -बीच में, “जय श्री राम ” और ” भारत माता की जय ” के नारे व हजारों की भीड़. कुछ ऐसा ही दृश्य था अपर असम के तिनसुकिया और डिबरूगढ़ जिलों में ज़ब भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री के सुपरस्टार व बीजेपी के सांसद मनोज तिवारी “मृदुल ” पार्टी का प्रचार करने यहां पहुंचे.

तिनसुकिया को असम का “मिनी बिहार ” भी कहा जाता है जहाँ बिहार व उत्तरप्रदेश के लोगों की अच्छी-खासी संख्या है.

अब जबकि पहले चरण के चुनाव में सिर्फ दस दिन रह गए हैं जिसमे अपर असम के सभी जिलों में चुनाव होने हैं, मनोज बीजेपी के लिए अलादीन का चिराग साबित हो सकते हैं. मनोज भोजपुरी के लोकप्रिय गीतकार, अभिनेता और नार्थ -ईस्ट दिल्ली से सांसद भी हैं.

भीड़ उनकी एक झलक पाने और उन्हें छू लेने को बेताब हो रही थी. कोई अपनी मोबाइल से उनकी फोटो खींच रहा था तो कोई वीडियो बना रहा था, कोई सेल्फी लेने को बेताब था. पुरुष, महिलाएं, युवा और बच्चे अपने धराऊ कपड़े में सुसज्जित और खुश थे, ज्यादतर भगवा रंग के कपड़ों में थे. अपर असम का व्यवसायिक व इंडस्ट्रियल शहर तिनसुकिया का मुख्य मार्ग थाना चरिआली के दोनों ओर लोगों की भीड़ थी. रोड शो के दौरान मनोज संजय किसान के साथ थे जो दुबारा तिनसुकिया से चुनाव लड़ रहे हैं.डेढ़ किलोमीटर के शो के बाद मनोज दुमदुमा में रुपेश गोवाला और डिब्रुगढ़ मे प्रशांत फुकन के लिए प्रचार हेतु निकल गए.

गुलाबी शर्ट में फुलाम ग़ामोसा से लदे और सिर पर पारम्परिक जापी पहने एसयूवी भान के ओपनहुड से माइक्रोफोन पर उन्होंने भाषण देते हुए कहा, ” मैंने तिनसुकिया के लोगों से वादा किया था कि मै जरूर लौटूंगा. और हमेशा की तरह इन्होने मुझे प्यार से अपनाया. अब जबकि इस क्षेत्र के लिए बीजेपी ने इतना काम किया है मै तिनसुकिया के लोगों से हमलोगों के लिए वोट मांग सकता हूं. ” मनोज बीजेपी के वर्तमान विधायक और असम कैबिनेट में राज्य मंत्री संजय किसान के लिए प्रचार कर रहे थे जो बीजेपी से हैं.

मनोज जो उत्तरप्रदेश में पले-बढ़े और जिनका पैतृक मकान बिहार के आरा जिले में है ने दशकों पहले एक गायक के रूप में आकर तिनसुकिया के लोगों का दिल जीता था.

2001 की सेंसस रिपोर्ट के अनुसार तिनसुकिया में बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले 15000 परिवार यहां रहते हैँ.

प्रेरणा भारती ने ज़ब उपस्थित जन समूह कि राय जानना चाही तो बताया गया, ” हमलोग मनोज बाबा के बात और संजय किसान के प्रेम और सहयोग और बीजेपी पार्टी के विकास के कार्य से बहुत खुश है, वोट हम कमल छाप को ही देंगे. ”
#
फोटो संलग्न है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here