फॉलो करें

चार साल से गोविंदा के पास नहीं है कोई फिल्म, गुस्से में स्वयं को थप्पड़ मारे..!

49 Views

मुम्बई. फिल्म स्टार गोविंदा के पास चार साल से कोई फिल्म नहीं है, जिससे वे गुस्से में थप्पड़ उन्होने स्वयं को थप्पड़ा मार लिए. गोविंदा की 2019 में फिल्म आई जो फ्लाप रहीं, इसके बाद गोविंदा के पास कोई भी फिल्म नहीं है. एक समय ऐसा भी था कि गोविंदा ने एक साथ 49 फिल्में साइन की थी.

कभी फिल्ममेकर्स उन्हें फिल्म में कास्ट करने के लिए लाइन लगाकर खड़े रहते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है. गोविंदा कमबैक की कोशिश भी कर रहे हैं. यही कारण है कि गोविंदा ने फिल्ममेकर डेविड धवन से पैचअप भी कर लिया है. उनसे भी करीब पांच साल से बातचीत तक बंद थी.  गोविंदा ने डेविड की तकरीबन 17 फिल्मों में काम किया था. इनमें शोला और शबनम, आंखें, राजा बाबू, कुली नंबर वन, हीरो नंबर वन जैसी फिल्में हिट रही थीं. गोविंदा के स्टारडम का आलम यह था कि एक मैगजीन ने उन्हें सोने के अंडे देने वाली मुर्गी बताते हुए लिखा था. जिसको 21 साल की उम्र तक कोई जानता नहीं था उसने 22 साल की उम्र में 49 फिल्में साइन कर ली थीं. गोविंदा के पिता अरुण आहूजा भी एक एक्टर थे, उन्होने करीब 40 फिल्मों में काम करने के बाद इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया था. वहीं गोविंदा की मां निर्मला देवी जानी-मानी क्लासिकल सिंगर व अभिनेत्री थीं. इसके बाद भी गोविंदा का बचपन गरीबी में बीता, उन्हें काफी स्ट्रगल करना पड़ी. क्योंकि गोविंदा के जन्म से पहले पिता के डूबते फिल्मी करियर ने पूरी फैमिली को बर्बादी के रास्ते पर पहुंचा दिया था. पूरा परिवार मुंबई के विरार में एक चॉल में रहने को मजबूर हो गया था. घर की खराब आर्थिक स्थिति के चलते गोविंदा जब बड़े हुए तो उन्होंने नौकरी पाने के लिए बहुत पापड़ बेले. कॉमर्स में ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद एक बार वह मुंबई के होटल ताज में वह वेटर की नौकरी का इंटरव्यू देने गए लेकिन उन्हें यह नौकरी नहीं मिली. गोविंदा ने बताया था मुझे यह नौकरी नहीं मिली. क्योंकि मैं इंग्लिश नहीं बोल पाता था. मैंने इंटरव्यू में इंग्लिश में बात नहीं की थी.

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल