फॉलो करें

बिहू में अब गोली की नहीं, कोयल की आवाज सुनाई देती है: मुख्यमंत्री

29 Views

गुवाहाटी, 24 अप्रैल (हि.स.)। मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्व सरमा ने कहा है कि अब असम में बिहू उत्सव बंदूक और गोला बारूद की आवाज से नहीं, बल्कि कोयल की मीठी आवाज से मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की कोशिशों के कारण असम के उग्रवादी संगठनों के सदस्य मुख्य धारा में लौट चुके हैं। एक समय था जब बोड़ो, कार्बी से लेकर तमाम जाति-जनजातियों के बीच असंतोष था। हर तरफ गोला बारूद की आवाजें सुनी जाती थीं। हर दिन बंद, हड़ताल, प्रदर्शन, आंदोलन आदि हुआ करता था लेकिन आज राज्य में शांति स्थापित हो गई है और विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

मुख्यमंत्री डॉ सरमा ने बुधवार को दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन राज्य में कई स्थानों पर चुनावी सभाएं कीं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के दिनों में ब्रह्मपुत्र पर कई पुल बनाए गए, गुवाहाटी में आईआईटी की स्थापना हुई, एक से बढ़कर एक विकास के कार्य हुए, अरुणोदय, वसुंधरा से लेकर जनकल्याण के अनेक कार्यक्रम चलाए गए। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता ने देखा है कि किस प्रकार नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश का विकास हो रहा है। आज भारत विश्व गुरू बनने जा रहा है। पूरी दुनिया में भारतीयों का सम्मान बढ़ा है। यही वजह है कि आज लोग भाजपा के प्रति आकृष्ट होकर नरेन्द्र मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने के लिए उत्सुक हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने लोगों का जो उत्साह देखा, उसके आधार पर आज वह दावे के साथ कहते हैं कि दूसरे चरण में होने वाले मतदान में भी भाजपा के उम्मीदवारों की भारी जीत होगी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने केंद्र तथा राज्य सरकार की चलायी जा रही विभिन्न योजनाओं की चर्चा की। मुख्यमंत्री के साथ कार्यक्रमों में भाजपा के राज्यसभा सांसद भुवनेश्वर कलिता समेत कई विधायक, पार्टी के उम्मीदवार एवं वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल