फॉलो करें

मुख्यमंत्री डॉ. सरमा ने लगाए कांग्रेस पर 10 घोटालों के आरोप

22 Views

गुवाहाटी,  मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने कांग्रेस सरकार के दिनों में हुए दस घोटालों की सूची आज सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कहा कि इन्हीं कारणों से लोग चुनाव में कांग्रेस को वोट नहीं देंगे।

डॉ. सरमा द्वारा शेयर की गई सूची में कई बहुचर्चित घोटाले शामिल हैं। इसमें कोयला घोटाला से लेकर आगस्टा वेस्टलैंड घोटाला तक शामिल है। उन्होंने राष्ट्रमंडल खेल घोटाला, टेलीकॉम घोटाला, एंट्रिक्स-देवास घोटाला, हॉक एयरक्राफ्ट घोटाला, आईएनएक्स मीडिया घोटाला, एयरसेल-मैक्सिस घोटाला, एम्ब्रेयर घोटाला और नौकरी के बदले भूमि घोटाला आदि इसमें शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि कोयला घोटाला को “कोलगेट” के नाम से भी जाना जाता है, इस घोटाले में निजी कंपनियों को कोयला ब्लॉकों के आवंटन में अनियमितताओं के कारण देश को अरबों डॉलर का नुकसान हुआ था।

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला भारतीय वायु सेना के लिए हेलीकॉप्टरों की खरीद में कथित भ्रष्टाचार से संबंधित है। इसमें भारतीय अधिकारियों और राजनेताओं को रिश्वत देने का आरोप था।

राष्ट्रमंडल खेल घोटाला दिल्ली में 2010 में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन और कार्यान्वयन से जुड़े भ्रष्टाचार और वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है।

टेलीकॉम घोटाला देश में 2जी स्पेक्ट्रम लाइसेंस के आवंटन प्रक्रिया में कम मूल्यांकन और पक्षपात के कारण सरकार को काफी नुकसान हुआ था।

एंट्रिक्स-देवास घोटाला में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की वाणिज्यिक शाखा एंट्रिक्स कॉर्पोरेशन और देवास मल्टीमीडिया के बीच एक उपग्रह सौदे को रद्द करने में पक्षपात और अनियमितताओं के आरोप थे।

हॉक विमान घोटाला भारतीय वायु सेना के लिए हॉक उन्नत जेट ट्रेनर विमान की खरीद में अनियमितताओं से संबंधित था।

आईएनएक्स घोटाला में आईएनएक्स मीडिया मामले में तत्कालीन वित्त मंत्री पी चिदम्बरम और उनके बेटे कार्तिक चिदम्बरम के खिलाफ अनियमितताओं और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप शामिल थे।

एयरसेल-मैक्सिस घोटाला में तत्कालीन वित्तमंत्री पी चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) द्वारा एयरसेल में विदेशी निवेश की मंजूरी में अनियमितता के आरोप थे।

एम्ब्रेयर घोटाले में ब्राजीलियाई विमान निर्माता एम्ब्रेयर और भारत सरकार के बीच सैन्य विमान की खरीद के सौदे में भ्रष्टाचार के आरोप शामिल हैं। इसमें दलाली और घूसखोरी के आरोप शामिल हैं।

नौकरी के बदले भूमि घोटाला भारत के विभिन्न राज्यों में नौकरियों के बदले भूमि आवंटन में अनियमितता के आरोपों से संबंधित है।

चुनाव के मौके पर मुख्यमंत्री ने इन सभी घोटाला की बात शुरू करके विपक्षी दल कांग्रेस को एक बार फिर कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। इन आरोपों के बाद कांग्रेस पार्टी मौजूदा भाजपा नेतृत्व वाली केंद्र और राज्य सरकार पर आरोप लगाने के बदले इन घोटाला पर सफाई देने में ही व्यस्त हो जाएगी।

मुख्यमंत्री के खिलाफ इसी बीच विपक्षी दल कांग्रेस द्वारा अभियोगनामा जारी किया गया था, जिसमें मुख्यमंत्री, उनके परिवार और उनके कार्यकाल में हुई कई कथित गड़बड़ियां की चर्चा की गई थी। देखना यह है कि मुख्यमंत्री द्वारा कांग्रेस पर लगाए गए 10 घोटाले के आरोप में कांग्रेस आखिर क्या जवाब देती है।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल