फॉलो करें

वित्तीय वर्ष 2023-24 में पूसीरे की प्रमुख उपलब्धियां

38 Views

गुवाहाटी,   वित्तीय वर्ष 2023-24 के दौरान पूर्वोत्तर सीमा रेलवे (पूसीरे) ने माल लोडिंग, विद्युतीकरण, नई ट्रेनों की शुरूआत और यात्रियों के लिए बेहतर सुविधाएं प्रदान करने सहित विभिन्न श्रेणियों में कई उपलब्धियां हासिल की।

पूसीरे के सीपीआरओ सब्यसाची डे ने आज बताया है कि 515 रेकों के पीओएल लोडिंग कर पूसी रेलवे ने वर्ष 2023-24 में अब तक की सर्वश्रेष्ठ उपलब्धि हासिल की। व्यापार करने में आसान सुविधा प्रदान करते हुए, पूसीरे ने 2023-24 के दौरान मक्का लोडिंग में लक्ष्य से 32 फीसदी की प्रभावशाली वृद्धि हासिल की। सबसे कठिन समय में भी सामाजिक कर्तव्यों को पूरा किया। विधि-व्यवस्था की स्थिति के दौरान, पूसी रेलवे ने मणिपुर के खोंगसांग में 139 वैगनों से आवश्यक वस्तुओं का परिवहन कर मणिपुर के लोगों को उल्लेखनीय सेवा प्रदान की। पूसीरे के अथक प्रयासों के परिणामस्वरूप सीमित लाइन क्षमता के बावजूद अधिक टनभार की ढुलाई हुई।

पूसीरे में केवल 3 महीनों में 453 बोगी कवर्ड वैगनों (बीसीएनएचएल) के रेक रिलीज किए गए। न्यू गुवाहाटी में बीसीएनएचएल रेकों के क्लोज्ड सर्किट रेकों के परीक्षण शुरू करने के काफी सक्रिय कदम के माध्यम से पूसी रेलवे ने प्रणाली दक्षता में सुधार किया, ताकि अमान्य खाली रेकों की आवाजाही कम हो सके। पूसी रेलवे के निरंतर प्रयासों के परिणामस्वरूप, वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान अब तक का सर्वाधिक आवक परिवहन 35.30 मिलियन टन हासिल किया गया, जिसने पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 6.9 फीसदी की वृद्धि दर्ज की।

पूरे जोन को शत् प्रतिशत विद्युतीकृत करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए पूसीरे तेजी से प्रगति कर रही है। इसके लिए, 2023-24 के दौरान 921.62 रूट किलोमीटर और 1279.74 ट्रैक किलोमीटर का बिजलीकरण किया गया है। पूसीरे में संचयी 2583 रूट किलोमीटर और 4485 ट्रैक किलोमीटर विद्युतीकृत हो चुका है, जो अपने कुल किलोमीटर का 61 फीसदी है।

पूसीरे मात्रा और गुणवत्ता में जनता को बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए पूसीरे ने 2023-24 में 11 नई ट्रेनें शुरू की है। उत्तम यात्रा अनुभव प्रदान करने के लिए, 11 पारंपरिक ट्रेनों को आधुनिक लिंक हॉफमैन बुश रेक में परिवर्तित किया गया। लोगों की मांग पर 2023-24 में पूसीरे द्वारा 34 जोड़ी मेल एक्सप्रेस एवं पैसेंजर ट्रेनों को 35 स्टेशनों पर अतिरिक्त ठहराव प्रदान किये गये। इसके अलावा, प्रतीक्षासूची वाले यात्रियों के लिए अतिरिक्त बर्थ की व्यवस्था करने के लिए 25 जोड़ी (62 रेक) मेल एक्सप्रेस ट्रेनों में 151 कोच स्थायी रूप से बढ़ाए गए थें।

यात्रियों/पैदल यात्रियों को पार करने के लिए, 2023-24 के दौरान पूसीरे में 10 फुट ओवर ब्रिज का निर्माण किया गया। इसके अलावा, रेलवे प्लेटफार्मों पर दिव्यांगजनों, वृद्धों और बच्चों की आवाजाही को सुलभ बनाने के लिए 2023-24 में 04 लिफ्ट और 04 एस्केलेटर चालू किए गए।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल