फॉलो करें

श्री संतोष,श्याम सुंदर लखोटिया का समाज के सामने एक आदर्श प्रस्तुत करने पर माहेश्वरी कपल क्लब द्वारा सम्मान

25 Views
लखीमपुर 11मार्च : अंतरराष्ट्रीय माहेश्वरी कपल क्लब लखीमपुर शाखा  द्वारा श्री संतोष श्याम सुंदर लखोटिया का लखीमपुर आगमन पर उनको स्वागत किया गया। संस्था के अध्यक्ष श्री राजेश मालपानी के निवास स्थान पर यह कार्यक्रम सम्पन्न किया गया।श्री राजेश मालपानी ने बताया की 55 वर्ष पूर्व  उनकी बहन की शादी के 24 दिन पश्चात ही उनके बहनोई जी का कोलकाता में एक एक्सीडेंट में असामयिक निधन हो गया था। परिवारजन सभी गहरे सदमे में थे उसे समय परिवार जनों को चारो तरफ  अंधकार नज़र आ रहा था लेकिन स्वर्गीय हीरालाल जी,गीता देवी लखोटिया के द्वितीय पुत्र से श्याम सुंदर लखोटिया (एमकॉम) ने अपनी माताजी की सहमति से घर आकर मालपानी परिवार को विवाह करने का प्रस्ताव दिया। 55 वर्ष पूर्व में विधवा विवाह की कल्पना किसी ने भी नहीं की थी, किसी ने भी सपने में नहीं सोचा था की ऐसी दुर्घटना घटना के पश्चात भी उनका छोटा भाई समाज को एक नई चेतना देने का कार्य कर सकता है। अपने ननिहाल वालों को नाराज करके भी उन्होंने संतोष लखोटिया के भविष्य के बारे में जो चिंता की वह स्वागत योग्य थी।मालपानी परिवार में जब यह खबर मिली तो मिश्रित प्रतिक्रिया प्राप्त हुई  क्यों कि इस तरह का कोई विवाह  पहले कही हुआ नहीं था लेकिन स्वर्गीय जुगल किशोर मालपानी ने अंधे को क्या चाहिए दो आंखें कह कर इस विवाह की सहर्ष अनुमति प्रदान की।दुर्घटना के अढ़ाई माह के अंदर ही पुनः शादी करवाई  राजस्थान में उसे समय प्रमुख चर्चा का विषय यह शादी रही थी इस शादी में सीकर से लोकसभा सांसद श्री गोपाल जी साबू और सीकर ,चूरू और झुंझुनू के जिलाधीश स्वागत सम्मान समारोह में उपस्थित रहकर इस कार्यक्रम को अपनी सहमति प्रदान की ओर इसे नील  का पत्थर बताया। राजस्थान पत्रिका में भी उसे समय प्रथम पृष्ठ पर यह खबर प्रमुखता से छपी थी। इस शादी में अपने स्वर्गीय गुरु जी स्वर्गीय बृज मोहन जी पुरोहित की आज्ञा से श्री श्याम सुंदर लखोटिया ने घूंघट प्रथा हटाकर फेरे करवाएं और  घूंघट प्रथा  हटाने में एक अहम भूमिका निभाई थी, साथी हम देखते हैं की परिवार जनों में कोई दुखद घटना होती है तो परिवार के सदस्य बहुत लंबे समय तक शोक में डूबे रहते हैं लेकिन श्री लखोटिया जी ने उसे समय अपने जवान बड़े भाई की मृत्यु के समय मृत्यु के अढ़ाई माह के अंदर ही विवाह करके एक मिसाल कायम  की।
अंतर्राष्ट्रीय माहेश्वरी कपल क्लब की महामंत्री श्रीमती मंजू चांडक ने असमिया संस्कृति के प्रतीक फूलाम गमछा से श्रीमती संतोष लखोटिया का और कपल क्लब के उपसभापति श्री माणिकलाल दमानी ने श्री श्याम सुंदर जी लखोटिया का स्वागत किया और जापी से मंजू तापड़िया,सोनम चांडक,पूजा मालपानी नेसम्मान किया वहीं मारवाड़ी सम्मेलन के सभापति श्री बलवान जी शर्मा ने लखोटिया दंपति का फूलाम गमछा से स्वागत किया।
 लखीमपुर आगमन पर उनका विभिन्य  दल संगठन द्वारा गर्मजोशी के साथ स्वागत  किया गया और उनकी दीर्घायु जीवन की मंगल कामना करते हैं पूर्वोत्तर प्रदेश या मारवाड़ी सम्मेलन मंडल ग के उपसभापति श्री छतर सिंह जी ग्रीडिया ने भी फूलाम गमछा से उनका स्वागत किया।अपने शब्दो में श्री लखोटिया जी ने पूर्वोत्तर प्रदेशीय मारवाड़ी सम्मेलन और अंतरराष्ट्रीय माहेश्वरी कपल क्लब को धन्यवाद और आभार जताया।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल