फॉलो करें

संसद में सुरक्षा चूक को लेकर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने सर्वदलीय बैठक बुलाई, करेंगे बातचीत

19 Views

नई दिल्ली. देश की संसद में सुरक्षा चूक की घटना को लेकर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. ओम बिड़ला बुधवार शाम 4 बजे केंद्र और विपक्षी पार्टियों के साथ बातचीत करेंगे. उन्होंने कहा कि सदन में हुई घटना चिंता का विषय है.

लोकसभा की कार्यवाही के दौरान आज दोपहर एक बजे दो युवक विजिटर्स गैलरी से नीचे कूद गए. वे सदन की बेंच पर कूदने लगे. उन्होंने सदन में पीले रंग का धुआं फैला दिया. सांसदों ने उन्हें पकड़ा और सुरक्षाबलों को सौंप दिया. घटना के बाद पूरे सदन में अफरा-तफरी का माहौल हो गया. लोकसभा स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दिया. इसके बाद दोपहर 2 बजे सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई.

एक महिला सहित 4 लोग गिरफ्तार

बताया जा रहा है कि जो दो लोग कार्यवाही के दौरान घुसे, उनका नाम मनोरंजन और सागर है. दोनों युवक सांसद विजिटर पास पर सदन में आए थे. वहीं, सदन के बाहर जिस महिला और पुरुष ने पीले रंग का धुआं छोड़ा, उनका नाम नीलम और अमोल है. सुरक्षाकर्मियों ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है. इस दौरान ये लोग नारेबाजी करते देखे गए.

संसद पर आतंकी हमले की 22वीं बरसी पर सुरक्षा चूक

ये घटना आज तब हुई जब देश संसद पर आतंकी हमले की 22वीं बरसी मना रहा है. साल 2001 में 13 दिसंबर को ही पुरानी संसद की इमारत में 5 आतंकियों ने हमला किया था. इसमें दिल्ली पुलिस के 5 जवान समेत 9 लोगों की मौत हुई थी. पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने आज संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले हमले में शहीद हुए जवानों को संसद भवन के बाहर श्रद्धांजलि दी थी. पीएम मोदी और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने शहीदों के परिवार से मुलाकात की.

संसद के अंदर विजिटर्स की एंट्री बंद की गई

संसद में सुरक्षा चूक की घटना के बाद विजिटर्स की एंट्री रोक दी गई है. विजिटर्स पास लेकर आए लोगों को रिसेप्शन एरिया से वापस भेज दिया गया. आज सुबह कई सांसदों की पत्नी संसद की नई बिल्डिंग देखने आई थीं. हालांकि, अधिकारियों ने बताया कि विजिटर्स एंट्री रोकने को लेकर अब तक कोई लिखित निर्देश नहीं आया है. आमतौर पर विजिटर पास दो घंटे के लिए जारी किए जाते हैं.

कांग्रेस ने सुरक्षा चूक पर केंद्र से जवाब मांगा

संसद में सुरक्षा चूक को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा है. पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडग़े ने कहा- गृह मंत्री अमित शाह को दोनों सदनों में आकर इस घटना पर बयान देना चाहिए. हमें उम्मीद है कि सरकार इसे बहुत गंभीरता से लेगी. कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि संसद में आतंकी हमले की 22वीं बरसी पर सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है. आज की घटना उस हमले जैसा नहीं है, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि जरूरी सावधानियां नहीं बरती गईं.

पन्नू ने दी थी संसद पर हमले की धमकी

संसद में हमले को लेकर दिल्ली पुलिस पहले से अलर्ट पर थी. दरअसल, खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने संसद पर हमले की धमकी दी थी. अमेरिका में रहने वाले पन्नू ने वीडियो जारी करके कहा था- हम संसद पर हमले की बरसी वाले दिन यानी 13 दिसंबर या इससे पहले संसद की नींव हिला देंगे. पन्नू ने संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरू के साथ एक पोस्टर जारी किया था. पन्नू का वीडियो सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा था- किसी को भी कानून-व्यवस्था बिगाडऩे की इजाजत नहीं दी जाएगी. जब संसद चलती है, तो हम हाई अलर्ट पर रहते हैं ताकि कोई भी किसी तरह की गड़बड़ी न फैला सके.

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल