फॉलो करें

हिमाचल प्रदेश के पांच जिलों में बर्फबारी, चार एनएच समेत 350 सड़कें अवरूद्व

27 Views

शिमला, 02 मार्च । हिमाचल प्रदेश में मार्च महीने का आगाज मौसम के कड़े तेवरों से हुआ है। राज्य के पांच पर्वतीय जिलों में लगातार दूसरे दिन भी बर्फ गिरने का दौर जारी है। वहीं राजधानी शिमला सहित राज्य के मैदानी हिस्सों में व्यापक वर्षा हो रही है। कई जगह अंधड़ भी चल रही है। खराब मौसम की वजह से लाहौल घाटी में हिमखंड गिरने का खतरा बढ़ गया है। ताजा बर्फबारी से जनजातीय जिलों में यातायात व्यवस्था, बिजली आपूर्ति और संचार व्यवस्था प्रभावित हुई है।

चार नेशनल हाईवे समेत 350 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप है। बर्फबारी व आंधी से 1314 ट्रांसफार्मरों के खराब होने से कई क्षेत्रों में बिजली गुल है। लाहौल स्पीति और कुल्लू व मनाली उपमंडल के सभी शिक्षण संस्थान बर्फबारी के कारण आज बंद रखे गए हैं। इस बारे में संबंधित एस.डी.एम. द्वारा आदेश जारी किए गए है। साथ में यह भी स्पष्ट किया गया है हिमाचल प्रदेश बोर्ड द्वारा ली जा रही परीक्षाएं पूर्व निर्धारित समय सारणी के अनुसार ही होगी।

राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार किन्नौर, लाहौल स्पीति, कुल्लू, चंबा और शिमला जिला में बर्फ गिर रही है। लाहौल-स्पीति जिला के केलंग में डेढ़ फुट, उदयपुर में दो फुट से अधिक जबकि त्रिलोकनाथ में ढाई फुट जबकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में चार फीट तक बर्फबारी हुई है। किन्नौर जिला के छितकुल और आसरंग में दो फुट, कल्पा व सांगला में डेढ़ फुट, हिमपात हुआ है।

चम्बा जिला में भी बारिश और बर्फबारी का दौर जारी है इससे कई सड़क मार्ग अवरूद्ध हुए है। पांगी घाटी में एक फुट ताजा हिमपात हुआ है। कुल्लू जिला में भी ऊंची चोटियों पर हिमपात का क्रम जारी है और निचले इलाकों में बीती रात गरज के साथ बादल बरस रहे हैं। हालांकि किसान व बागवान इस बर्फबारी से काफी खुश है।

लाहौल-स्पीति जिला में 290, किन्नौर में 32, मंडी में 10 और कुल्लू में सात सड़कें बर्फबारी से बंद हैं। लाहौल-स्पीति और कुल्लू जिलों में दो-दो नेशनल हाइवे बर्फ गिरने से अवरुद्ध हैं। चंबा जिला में 337 बिजली ट्रांसफार्मर बंद पड़ गए हैं। इसके अलावा लाहौल-स्पीति में 314, मंडी में 284, किन्नौर में 218 और कुल्लू में 161 ट्रांसफार्मर ठप हैं।

राज्य का न्यूनतम तापमान गिरा, ठंड बढ़ी

प्रदेश में हो रही बारिश-बर्फबारी से समुचा प्रदेशा कड़ाके की ठंड की जद में आ गया है। मौसम दिसंबर महीने की तरह सर्द हो गया है और मैदानी इलाकों में लोगों को फिर से गर्म कपड़े निकालने पड़े हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के औसतन न्यनूतम तापमान में 1.5 डिग्री की गिरावट आई है। किन्नौर के कल्पा और रिकांगपिओ में न्यूनतम तापमान क्रमशः -2.1 व -0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी तरह लाहौल-स्पीति के केलांग में -1.7 डिग्री और शिमला जिला के नारकंडा में -1.2 डिग्री सेल्सियस रहा।

शिमला में न्यूनतम तापमान 5.5 डिग्री, सुंदरनगर में 9.5 डिग्री, भुंतर में 6.2 डिग्री, धर्मशाला में 11.1 डिग्री, उना में 11.4 डिग्री, नाहन में 11.3 डिग्री, पालमपुर में 9 डिग्री, सोलन में 9.4 डिग्री, मनाली में 0.5 डिग्री, कांगड़ा में 12.4 डिग्री, मंडी में 9.4 डिग्री, बिलासपुर में 13.1 डिग्री, चंबा में 10.4 डिग्री, डल्हौजी में 3.9 डिग्री, जुब्बड़हट्टी में 8.2 डिग्री, कुफरी में 3.5 डिग्री, कुकुमसेरी में 0.2 डिग्री, भरमौर में 1.9 डिग्री, सियोबाग में 4 डिग्री, पांवटा साहिब में 10 डिग्री, सराहन में 4.5 डिग्री, देहरा गोपीपुर में 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

छह मार्च तक खराब रहेगा मौसम

मौसम विभाग ने आज पूरा दिन प्रदेश के उच्च पर्वतीय व मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी व निचले क्षेत्रों में वर्षा का रेड अलर्ट जारी किया है। तीन मार्च को कुछ स्थानों पर आसमानी बिजली चमकने का यलो अलर्ट रहेगा। चार व पांच मार्च को भी मौसम खराब बना रहेगा, जबकि छह मार्च को अधंड़ व बिजली गिरने की चेतावनी दी गई है। सात मार्च तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहेगा।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल