27वीं वाहिनी एसएसबी ने किया नि:शुल्क मास्क वितरण

0
403

27वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल हाउली ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु “जागरूकता एवं मास्क वितरण कार्यक्रम” का आयोजन किया। जिसमे इस वाहिनी के कमांडेंट अभिषेक आनन्द द्वारा भूटानखुटी सीमा चौकी क्षेत्र के नजदीक भूटानखुटी एल पी स्कूल तथा देउराली मिडिल स्कूल मे कुल 200 मास्क और सोप अध्यापक एवं छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क वितरित किया तथा मास्क पहनने का उचित तरीका भी बताया तथा साथ ही उन्हे मास्क देकर शपथ दिलाया कि हम स्वयं, अपने परिवार तथा अपने समाज को मास्क पहनने के लिए जागरूक करेंगे, ताकि कोरोना वायरस संक्रमण को शत प्रतिशत रोका तथा समाप्त किया जा सके।

इस कार्यक्रम के अंतर्गत कोरोना काल के दौरान मास्क की उपयोगिता एवं कोरोना से बचाव के सभी उपाय बताते हुए “दो गज दूरी, मास्क है जरूरी” जैसे स्लोगन पर जोर दिया गया, साथ ही सेनेटाइजर का उपयोग एवं अपने हाथों को बार-बार साबुन से धोने की प्रवृति विकसित करने तथा एक-दूसरे के बीच शारीरिक दूरी बनाए रखने पर जोर दिया गया जिससे की सभी लोग कोरोना वायरस से बच सकें ।

कमांडेंट महोदय द्वारा सभी बच्चों एवं ग्रामीण लोगों को कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए जागरूक किया और बताया की इससे लड़ने के लिए हमे किसी गोली और बंदूक की नहीं बल्कि मास्क एवं सेनीटाइज़र की जरूरत है । उन्होंने सभी बच्चों को बॉर्डर गार्डिंग फोर्सेस (सशस्त्र सीमा बल, सीमा सुरक्षा बल, भारत तिब्बत सीमा पुलिस, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस) के रोल एवं ड्यूटी के बारे में भी बताया की कैसे ये सभी लोग दिन रात जैसे दुश्मनों से आपको बचाने में मदद कर रहे हैं उसी प्रकार कोरोना से भी बचाने में आपकी मदद कर रहे हैं ।

कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी बच्चों से कमांडेंट महोदय द्वारा बॉर्डर गार्डिंग फोर्स में शामिल होने के लिए पूछने पर सामने की पंक्ति में बैठी एक 6 साल की बच्ची ने हाथ उठाकर गर्व से बोला कि वो भी एसएसबी में शामिल होकर देश की सेवा करना चाहती है तो इससे सभी बच्चों के अंदर एक उत्साह भर गया ।

“सामुदायिक कल्याण कार्यक्रम-2020-21” के तहत आयोजित किये गए इस कार्यक्रम से प्रभावित होकर ग्राम प्रधान एवं स्कूल के प्रधानाध्यापक एवं आस-पास मौजूद ग्रामीण महिलाओं ने बहुत तारीफ की और धन्यवाद दिया तथा बोला कि सशस्त्र सीमा बल द्वारा किए गए काम से ग्रामीण लोगों एवं बच्चों के बीच जागरूकता बढ़ रही है तथा समय-समय पर मिल रहे हर तरह की मदद चाहे वो शिक्षा, चिकित्सा या निर्माण कार्य हो, से सभी के बीच खुशहाल माहौल बना हुआ है । इस कार्यक्रम के उपरांत “वर्ल्ड विज़न इंडिया” (एन जी ओ) की ओर से ध्रुवजीत बोरो एवं उनकी टीम की ओर से एक जागरूकता अभियान आयोजित किया गया जिसमे सभी बच्चों को ह्यूमन ट्रैफिकिंग, बाल विवाह एवं चाइल्ड अब्यूज़ पर जागरूक किया ।

इस कार्यक्रम के दौरान 27वीं के उप कमांडेंट श्री ललित देउरी, सहायक कमांडेंट श्री सचिन कुमार तथा भूटानखुटी एल पी स्कूल के प्रधानाध्यापक श्री सूरज उपाध्याय एवं देउराली मिडिल स्कूल के प्रधानाध्यापक श्री छब्बी लाल बहल तथा अन्य अध्यापकगण और गाँव के मुखिया श्री सोमनाथ शर्मा भी मौजूद रहे ।Bhaskar Majhi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here