फॉलो करें

27वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल के द्वारा नि:शुल्क पिग फ़ार्मिंग प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन

221 Views

27वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बलके द्वारा बक्सा जिले के मुशलपुर मे स्थित पशुपालन एवं पशु चिकित्सा विभाग के माध्यम से आयोजित नि:शुल्क पिग फ़ार्मिंग का व्यवसायिक प्रशिक्षण कार्यक्रम दिनांक 08/03/2020 को कमांडेंट, अभिषेक आनन्द की उपस्थिति एवं मार्गदर्शन में 27वीं वाहिनी बल मुख्यालय में सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ I इस 7 दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन दिनांक 02/03/2020 से 08/03/2020 तक किया गया था तथा इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को “नागरिक कल्याण कार्यक्रम (पूर्वोत्तर राज्य 2020-21) के तहत गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रदत्त राशि द्वारा आयोजित किया गया था I

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम मे 27 वी वाहिनी के सीमावर्ती क्षेत्र गाँव के कुल 12 बेरोजगार नवयुवकों को पिग फ़ार्मिंग का प्रशिक्षण दिया गया एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान सभी बेरोजगार नवयुवकों को पिग फार्म का विज़िट कराया गया (जिसे असम के मुख्यमंत्री द्वारा पुरस्कृत किया गया है) तथा उन्हे रख-रखाव एवं अन्य बातों के बारे में गहन जानकारी दी गई । इस समापन कार्यक्रम के दौरान कमांडेंट महोदय नें सभी नवयुवकों को शुभकामनाएँ दी एवं प्रशिक्षण उपरांत सभी को तीन-तीन पिगलेट्स एवं प्रशिक्षण प्रमाण-पत्र देकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उन्हे मार्गदर्शित किया । उन्होंने बताया की इस साल की भांति पिछले साल भी 12 सीमावर्ती नौजवानों को पिगलेट्स दिए गए थे जिससे उन नौजवानों ने पिगलेट्स से उत्पादन कर लगभग 40-45 हजार का व्यवसाय किया है तथा अभी भी कुछ उत्पादन प्रगति में है ।

कमांडेंट महोदय द्वारा सभी नवयुवकों से इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का सुझाव लिया गया जिसमे प्रशिक्षणार्थी गणेश बसुमतरी ने अपने विचारों को साझा करते हुए बताया की वाहिनी के इस पहल से जो प्रशिक्षण हमे मिला है उसे गाँव के सभी परिवार को वो सिखाएंगे तथा दूसरे प्रशिक्षणार्थी रंजीत मुसहरी ने बताया की जो ट्रेनिंग हमने लिया है उससे हमे बहुत फायदा होगा क्योंकि पिग फ़ार्मिंग के साथ-साथ हमे जानवरों की बीमारी एवं उसके उपचार के बारे में भी सिखाया गया । वहीं अन्य प्रशिक्षणार्थी ने कहा की पहले पिग फ़ार्मिंग की कोशिश की थी लेकिन जानकारी नहीं थी, अब जानकारी मिलने पर पुनः इसे शुरू करूंगा ।

इस अवसर पर डॉ एम० इस्लाम (पशु चिकित्सा अधिकारी), पशुपालन एवं पशु चिकित्सा विभाग, मुशलपुर ने बताया की पिग फ़ार्मिंग एक अच्छा व्यवसाय है जिससे प्रति वर्ष 3 पिगलेट से 36 से भी ज्यादा पिगलेट्स पैदा करके अच्छी आमदनी की जा सकती है । साथ ही साथ इस अवसर पर वाहिनी के द्वितीय कमान अधिकारी, श्री अचिंत्य मित्रा, श्री बिनोद कुमार दास, उप कमांडेंट, डॉ ललित देउरी, उप कमांडेंट (पशु चिकित्सा अधिकारी) श्री प्रभात कुमार, सहायक कमांडेंट एवं श्री रवि शेखर झा, सहायक कमांडेंट भी मौजूद थे Ibhaskar Majhi

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल