फॉलो करें

84 लाख से ज्यादा होती है योनियां- डूंगर दास जी महाराज

29 Views

गुवाहाटी- कल्याण भवन,दिसपुर में चल रहे छः दिवसीय सत्संग कार्यक्रम के दौरान पांचवे दिन संत श्री डूंगरदास जी महाराज ने अपने मुखारविन्द से बताया कि चौरासी लाख प्रकार की योनियों की तो गिनती हुई है, जबकि योनियाँ तो इससे भी अधिक प्रकार की होती है। यह जरूरी नहीं है कि सब कर्मों का फल भुगतने करने के बाद ही मनुष्य जन्म मिले,भगवान कृपा करके पहले भी मनुष्य योनि दे सकते हैं। इसलिए हमको मनुष्य योनि प्राप्त हो गई है,तो अपना कल्याण कर लेना चाहिए। मनुष्य योनि प्राप्त होने पर वह कर्म कभी ना करें जिससे अपना पतन होता हो।

अतः सब समय अपने कल्याण का काम करना चाहिए,भगवान का स्मरण करना चाहिए।
भगवान ने हमें मनुष्य शरीर दिया है, तो हमें अपना कल्याण करके मनुष्य जन्म को सार्थक करना चाहिये।
इसके अलावा महाराज जी ने परम श्रद्धेय स्वामीजी श्री रामसुखदास जी महाराज द्वारा श्रीमद्भगवद्गीता पर लिखी गई टीका साधक-संजीवनी के बारे में लोगों को पढ़ने के लिए प्रेरणा की।
इस अवसर पर महेश योग समिति से बनवारी लाल मूंदड़ा, मदनमोहन मल्ल जी, श्री जानकी बल्लभ मंदिर के पंडित श्री गोपाल जी काफले, राजेन्द्र जी गुप्ता, आयोजनकर्ता दीनदयाल सिंघल,बजरंगलाल सिंघल, संजय सिंघल व समस्त सिंघल परिवार के साथ अन्य श्रद्धालु उपस्थित थे।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

मारवाड़ी सम्मेलन की तिनसुकिया तथा तिनसुकिया महिला शाखा के आतिथ्य में अखिल भारतवर्षीय मारवाड़ी सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार लोहिया और महामंत्री कैलाश पति तोदी सहित प्रांतीय अधिकारियों का तिनसुकिया में भव्य स्वागत

Read More »

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल